कोविड निगेटिव रिपोर्ट के बाद ही जिले में कर सकेंगे प्रवेश

कर्मचारियों और खरीदारों को दिखानी होगी फोटो-आईडी

By: ayazuddin siddiqui

Published: 12 May 2021, 10:56 PM IST

डिंडोरी. कलेक्टर रत्नाकर झा ने ग्रामीण आदिवासियों और स्थानीय निवासियों के रोजगार को ध्यान में रखते हुए आदेश जारी किया है कि तेंदूपत्ता संग्रहण प्रसंस्करण, उचारण, परिवहन, भंडारण व विपणन में संलग्न श्रमिकों को फोटो आईडी के आधार पर में जिले में आवागमन की सशर्त अनुमति रहेगी। कलेक्टर ने मंगलवार को जारी आदेश में बताया कि जिले में आने वाले तेंदूपत्ता खरीदारों और उनके प्रतिनिधियों को कोविड.19 की निगेटिव जांच रिपोर्ट साथ रखना होगी। वन मंडल अधिकारी या जिला यूनियन के प्रबंध संचालक क्षेत्र विशेष में कार्य करने के लिए फोटो आईडी जारी करेंगे। लघु वनोपज संबंधी कार्यों में संलग्न कर्मचारियोंए खरीदारों और प्रतिनिधियों को कोविड गाइडलाइंस का 100 प्रतिशत पालन करना होगा। संग्रहण केंद्रों और गोदामों में प्रोटोकॉल के अनुसार व्यवस्थाएं करना होंगी। प्रशासन की शर्तों का उल्लंघन करने पर अनुमति निरस्त मानी जाएगी।
जारी आदेश में बताया गया कि कार्यांे में संलग्न कर्मचारी, क्रेता एवं उनके प्रतिनिधि श्रमिक तथा ग्रामीण सभी को मास्क, फेसकवर, रूमाल, दोपट्टा इत्यादि का उपयोग तथा मध्यप्रदेश शासन लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के आदेशों का पालन करना होगा। संग्रहण केन्द्र एवं भण्डारण केन्द्र गोदाम में सेनेटाइजर व साबुन रखना अनिवार्य होगा। लोगों के आने तथा जाने के समय सेनेटाईजर साबुन से 20 सेकेण्ड तक हाथों को धोना होगा। सभी व्यक्ति कम से कम दो मीटर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करेंगे। इसके लिए दो-दो मीटर के अंतराल में चूने का घेरा बनाया जाए और रात्रि कार्य के लिए प्रकाश की व्यवस्था की जाए। इन कार्यो में संलग्न व्यक्ति को कोरोना संक्रमण के लक्षण दिखाई देने पर उसे तत्काल निकटतम अस्पताल में पहुंचाना होगा।

Show More
ayazuddin siddiqui
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned