scriptDirt in government offices, not getting regular cleaning | सरकारी कार्यालयों में गंदगी, नहीं हो रही नियमित सफाई | Patrika News

सरकारी कार्यालयों में गंदगी, नहीं हो रही नियमित सफाई

जहां मर्जी वहीं फैला रहे गंदगी, कार्रवाई सिफर

डिंडोरी

Updated: December 18, 2021 12:45:35 pm

डिंडोरी. जिला मुख्यालय के शासकीय कार्यालयों में स्वच्छता अभियान को नजर अंदाज किया जा रहा है। जिस ओर भी जाएं सभी जगह दिवालो व खिड़कियो में पान गुटखा के पीक का निशान नजर आ जायेगा। यह दीवारे सरकार की स्वच्छ भारत अभियान की पोल खोलते नजर आ रही है। प्रशासन और पुलिस की सख्ती महज कोरम पूर्ति तक सिमट कर रह गई है। कहने को तो सार्वजनिक स्थानो पर पान गुटखा खाकर थूकना पूरी तरह से प्रतिबंधित है और ऐसा करते पाए जाने पर जुर्माने का प्रावधान है। यहां तो शासकीय कार्यालयों की दीवारों पर ही ऐसा किया जा रहा है। जिसके चलते कलेक्ट्रेट कार्यालय, जिला अस्पताल,कोर्ट परिसर, सभी ऑफिसों में इस तरह की गंदगी देखी जा सकती है। स्वच्छता के प्रति लाचार व्यवस्था से लोग परिचित है और उसका फायदा उठाने से भी पीछे नहीं हटते है।
कार्रवाई के नाम पर कोरम पूर्ति
एक तरफ भारत सरकार के द्वारा स्वच्छ भारत अभियान के तहत करोड़ों रुपए खर्च कर स्वच्छता के लिए अनेक मुहीम चलाई जा रही है। वहीं दूसरी और सरकारी भवनों में ही स्वच्छ भारत अभियान की खुलेआम धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। जिसका अंदाजा सरकारी कार्यालयों के दीवाल और खिड़कियों में गुटका पान के निशान देखकर लगाया जा सकता है। जहां नोटिस बोर्ड लगाया गया है वही गंदगी फैलाई गई है। किसी कोई कोई डर नहीं है अगर चेतावनी बोर्ड के अनुसार कार्यवाही शुरू हो और जुर्माना भी वसूला जाए तो सार्वजनिक स्थलों पर गंदगी फैलाने वालों को सबक सिखाया जा सकता है। उसके बाद भी लोग गंदगी फैलाने से बाज नहीं आ रहे हैं।

Dirt in government offices, not getting regular cleaning
Dirt in government offices, not getting regular cleaning

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022: 939 वीरों को मिलेंगे गैलेंट्री अवॉर्ड, सबसे ज्यादा मेडल जम्मू-कश्मीर पुलिस कोस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयमुख्यमंत्री नितीश कुमार ने छोड़ा BJP का साथ, UP चुनावों में घोषित कर दिये 20 प्रत्याशीUP Assembly Elections 2022 : हेमा, जया, स्मृति और राजबब्बर रिझाएंगें मतदाताओं को, स्टार प्रचारकों की लिस्ट में हैं शामिलस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाUttar Pradesh Assembly Elections 2022: सपा का महा गठबंधन अखिलेश के लिए बड़ी चुनौतीबजट से पहले 1 फरवरी को बुलाई गई विधायक दल की बैठक, यह है अहम कारण
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.