scriptExemption of officials: Contractor got the same road constructed 3 tim | अधिकारियों की छूट: 16 दिनों को एक ही सड़क का ठेकेदार ने कराया 3 बार निर्माण | Patrika News

अधिकारियों की छूट: 16 दिनों को एक ही सड़क का ठेकेदार ने कराया 3 बार निर्माण

निर्माण कार्यों में गुणवत्ता की अनदेखी, सामने आने लगी लापरवाही

डिंडोरी

Published: April 04, 2022 01:19:39 pm

डिंडोरी. नगर परिषद द्वारा बीते 4 वर्षो में नगर के विकास व सौन्दर्यीकरण के नाम पर लाखों रुपये खर्च किये गए, इस दौरान नगर के लगभग सभी वार्डों में सड़कों का निर्माण कराया गया व सीवर लाइन डाली गई। बच्चों के खेलने के लिए पार्क बनाये गए,लेकिन इन सभी निर्माण कार्यो में निर्माण कार्य की गुणवत्ता को ताक में रखकर कार्य किये गए। नगर परिषद द्वारा कराये गये सभी कार्य समय से पहले ही खराब हो गए। नगर में तीन वार्डों को एक साथ जोडऩे वाली डामर सड़क नगरवासियों के बीच चर्चा का विषय है। दर्शन द्वार से लेकर माँ नर्मदा तक गुणवत्ता को ताक में रख बनाई गई सड़क को लेकर अब नगर परिषद की कार्यप्रणाली भी सवालों के दायरे में आ गई है। सड़क को लेकर तमाम तरह की प्रतिक्रियाएं देखने को मिल रही है,व वार्डवासियों के आक्रोश का सामना भी नगर परिषद के जिम्मेदारों को करना पड़ रहा है। निर्माण कार्य में बरती जा रही लापरवाही प्रारम्भ से ही चर्चाओं में रही है। उक्त सड़क पिछले सोलह दिनों में तीसरी बार बनकर तैयार है। इसके बावजूद कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।
कौन होगा जवाबदार
सड़क का निर्माण लगभग 11.50 लाख रुपयों की लागत से किया जाना था,और निर्माण को पूर्ण करने की जिम्मेदारी परिषद द्वारा एक कंस्ट्रक्शन कंपनी को सौंपी गई थी। निर्माण के दौरान जिम्मेदारों द्वारा एक भी दफा निरिक्षण नहीं किया गया। वार्ड क्रमांक 8 एवं 9 के पार्षद ने घटिया निर्माण किये जाने के मामले को लेकर कई बार पत्राचार किया लेकिन परिषद द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की गई। ठेकेदार को 16 दिनों में तीसरी बार निर्माण कार्य को सही करने का अवसर दिया गया।
सड़क के ऊपर बन गई सड़क
ठेकेदार ने निर्माण कार्य मे पहले ही दिन से लापरवाही करना शुरू कर दिया था और नियमों को दरकिनार कर पुरानी सड़क के ऊपर नई सड़क का निर्माण कर दिया, जिसके चलते दूसरे दिन से ही सड़क के परखच्चे उडऩे लगे थे। जब शिकायते हुईं तो चार-पांच दिनों बाद सड़क पर गिट्टी - डामर का एक शीलकोड और किया गया। जिसके बाद 15वें दिन ठेकेदार ने दबाव में आकर पत्थर से तैयार रेत इमल्सन में मिक्स कर बिछा दी।
पूर्व में भी इसी कंपनी को दिया था काम
विगत वर्ष जिला मुख्यालय स्तिथ रानी अवंती बाई चौक से माँ नर्मदा पुल तक लगभग 50 लाख की लागत से सीसी सड़क का निर्माण कार्य कराया गया था। उस दौरान भी उक्त ठेकेदार द्वारा गुणवक्ता का ध्यान में नहीं रखा गया था। जिससे महीने भर के अंदर ही सड़क उखडऩा शुरू हो गया था। परिषद के जिम्मेदारों ने फिर से उसी ठेकेदार को दोबारा सड़क का काम दे दिया गया।

Exemption of officials: Contractor got the same road constructed 3 times in 16 days
Exemption of officials: Contractor got the same road constructed 3 times in 16 days

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: पावर प्ले में बैंगलोर ने बनाए 1 विकेट के नुकसान पर 46 रनपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.