जिले में कोरोना से हुई पहली मौत

जिले में भी शुरू हुआ कोरोना से मौत का सिलसिला

By: ayazuddin siddiqui

Published: 18 Oct 2020, 06:06 PM IST

डिंडोरी. जिले में कोरोना से मौत का सिलसिला शुरू हो गया है। लेकिन फिर भी लोग लापरवाही बरत रहे हैं। बाजार में भीड़, सार्वजनिक स्थानों पर सोशल डिस्टनसिंग की धज्जियां उड़ाई जा रहीं है। उधर स्वास्थ्य विभाग ने भी जांचों को सीमित कर दिया है। ऐसे में जिले में कोरोना विस्फोट होने का खतरा बना हुआ है।
11 दिन तक लड़ा फिर तोड़ दिया दम
विक्रमपुर के एक मरीज ने जबलपुर में दम तोड़ दिया है। 5 अक्टूबर को मरीज की जांच कोरोना पॉजिटिव आई थी। उसकी गंभीर हालत को देखते हुए दूसरे दिन 6 तारीख को उसे जबलपुर रेफर किया गया था। जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई थी। तमाम प्रयासों के बाबजूद उसे बचाया नही जा सका और शुक्रवार को जबलपुर में उसने दम तोड़ दिया।
7 जांच केंद्र, 8 मोबाइल यूनिट
डिंडोरी मुख्यालयए गाड़ासरई प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सहित अमरपुर, समनापुर, शहपुरा, मेंहदवानी, बजाग, करंजिया सातों ब्लाकों में कोरोना वायरस की जांच की सुविधा है। इसके अलावा हर ब्लाक में कुल 8 मोबाइल यूनिट भी हैं। जिसमे 3 डॉक्टरों की टीम कोरोना जांच कर रही है।
गम्भीर कोरोना मरीज के लिए नहीं व्यवस्था
डिंडोरी मुख्यालय में 250 बेड का कोविड सेंटर, बजाग और शहपुरा में 50-50 बेडों की व्यवस्था होने के बाबजूद जिले में गंभीर मरीज के लिए कुछ खास व्यवस्थाएं नहीं हैं। अब तक 25 गंभीर कोरोना मरीजों को जबलपुर रेफर किया गया है। जिसमे से एक कि मौत भी विगत दिन हो चुकी है।
खतरा बढ़ा लेकिन जांचें हो गई कम
स्वास्थ्य विभाग से जो जानकारी सामने आई है वह चौकाने वाली है। कोरोना वायरस संक्रमण के शुरुआती दौर में जिला प्रशासन द्वारा प्रतिदिन 500 से 700 मरीजों के सेम्पल लिए जा रहे थे जबकि उस समय लॉक डाउन के कारण खतरा कम था। वहीं जब अनलॉक में लोग बिना डरे खुलेआम बिना मास्क और सोशल डिस्टनसिंग के घूम रहे हैं तब टेस्टिंग बढ़ाने की जगह स्वास्थ्य अमला गिने चुने लोगों की जांच कर रहा है। बर्तमान में प्रतिदिन केवल 300 से 350 लोगों की जांच की जा रही है।
24 को आईसीयू वार्ड का होगा लोकार्पण
तमाम अव्यवस्थाओं के बीच एक अच्छी खबर ये है कि कोरोना वायरस मरीजों के लिए 24 तारीख को मुख्यमंत्री डिंडोरी मुख्यालय में आईसीयू वार्ड का ऑनलाइन लोकार्पण करेंगे। ये आईसीयू वार्ड पुर्णत: आधुनिक होगा। जिला अस्पताल के महिला बार्ड में आईसीयू वार्ड बनाया गया है जिसमें लोकार्पण से सम्बंधित कार्य लगभग पूरा कर लिया गया है।
शनिवार को फिर मिले 6 कोरोना मरीज
जिले में कोरोना मरीजों के मिलने का क्रम जारी है। शनिवार को 6 कोरोना मरीज मिले हैं। जिसमें से 3 लोगों की रिपोर्ट शहपुरा, 1 करंजिया, 1 समनापुर और 1 कि रिपोर्ट डिंडोरी से कोरोना वायरस पॉजिटिव पाई गई है। 6 मरीजों को जोड़कर डिंडोरी में अब तक कुल 633 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। जिनमें से 539 लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं और एक कि मौत हो चुकी है। लगातार क्षेत्र में कोरोना का ग्राफ बढ़ रहा है।ग्रामीण अंचलों में भी कोरोना के मरीज मिल रहे हैं।
इनका कहना है
अनलॉक में लोगों को कोरोना वायरस से बेहद सावधानी बरतनी चाहिए। भीड़ में जाने से बचें। मास्क और सोशल डिस्टेंसिग का पालन करें। शुक्रवार को एक मरीज की मौत हो चुकी है। जहां तक कम जांचों का सवाल है तो जब कोरोना मरीज ज्यादा मिल रहे थे तो उनके कॉन्टेक्ट भी अधिक मिल रहे थे और जांचे अधिक हो रहीं थी। अभी भी हम 350 से अधिक जांचे प्रतिदिन कर रहे हैं।
-आरके मेहरा, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डिंडोरी।

Show More
ayazuddin siddiqui
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned