पिता के नाम से कराया फर्जी आहरण, मनरेगा में बनाया मनमाना जॉब कार्ड

पिता के नाम से कराया फर्जी आहरण, मनरेगा में बनाया मनमाना जॉब कार्ड

Amaresh Singh | Publish: Apr, 21 2019 10:51:28 AM (IST) Dindori, Dindori, Madhya Pradesh, India

कलेक्टर व सीईओ से अनियमितता की शिकायत

डिंडोरी। जनपद पंचायत शहपुरा अन्तर्गत ग्राम पंचायत सरई मे सचिव के पद पर आसीन रोजगार सहायक पर ग्रामीणो ने गंभीर आरोप लगाये हैं। साथ ही मामले मे आरोपी रोजगार सहायक की मूल पंचायत भरौठी माल के ग्रामीणो ने भी पंचायत क्षेत्र मे उक्त रोजगार सहायक व्दारा परिजनो को लाभ देने हेतु मनमाने जाब कार्ड बनाने के आरोप लगाते हुए मामले की शिकायत की है।


पिता के नाम भुगतान
ग्राम पंचायत सरई माल के ग्रामीण मंगल सिह उईके व्दारा कलेक्टर, जिला सीईओ सहित जनपद पंचायत शहपुरा मे की गयी लिखित शिकायत के अनुसार पंचायत मे प्रभारी सचिव के पद पर पदस्थ रोजगार सहायक अजय सोंधिया ने मतदान केन्द्र मे व्यवस्था के नाम पर 17 दिसम्बर 2018 को पिता के खाते मे बीस हजार रुपए का फर्जी भुगतान कर दिया। इसी तरह शौचालय निर्माण कार्य मे भी पिता लखराम सोंधिया के प्रोपराईटर मे नर्मदा टेडर्स का बिल लगाकर विभिन्न तिथियो मे लगभग 4 लाख 59 हजार 600 रू का भुगतान किया गया है। जबकि उपरोक्त कार्य मे अन्य फर्मो व हितग्राहियो के नाम से भुगतान किया जाना था। शिकायतकर्ता ने बताया कि पंचायत के कम्प्यूटर की रिपेरिंग के नाम पर फर्जीवाडा करते हुए 10 हजार रुपए का भुगतान पिता के खाते मे कर दिया गया।


जाब कार्ड में खेल
मनरेगा मे परिवार के अनुसार जाब कार्ड बनाये जाते है पर पंचायत मे पदस्थ रोजगार सहायक व्दारा मनरेगा योजना मे स्वयं के हित साधने हेतु परिवार की परिभाषा को ही अलग तरह से परिभाषित कर दिया गया। फर्जी हाजिरी भरने के लिए 100 दिन का रोडा न अटके इसलिए परिवार के अलग अलग सदस्यो के नाम से अलग अलग परिवार बना जाब कार्ड जारी किया गया है। ग्राम पंचायत भरौठी माल के ग्रामीण जगदीश मार्को ने पंचायत मे पदस्थ रोजगार सहायक अजय सोधिया के विरूद्ध शिकायत करते हुए बताया कि रोजगार सहायक ने मनरेगा के तहत बनाये गये सारे नियमो को दरकिनार करते हुए पत्नि विनता बाई के नाम पर, स्वयं के छोटे भाई सुभाष चन्द्र, छोटे भाई की पत्नी वर्षा एवं पिता लखराम, मां कांति के नाम से जाब कार्ड बनाकर सभी मे फर्जी हाजिरी भरकर राशि आहरित की जा रही है।


दो दो बार भुगतान
ग्राम पंचायत मे स्टेशनरी व्यय, शौचालय निर्माण कार्य मे लगी सामग्री, कम्प्यूटर रिपेरिंग, वाहन भाडा सहित सभी मदो मे व्यय का भुगतान प्रभारी सचिव व्दारा नर्मदा टेडर्स व लखराम सोंधिया के नाम पर अलग अलग बिल लगाकर किया गया है। जबकि उक्त दोनो के प्रोप्राईटर एक ही है। इसके अलावा लिखित शिकायत मे बताया गया है कि पंचायत मे सीसी सडक निर्माण में नरेन्द्र टेडर्स को 2 लाख 20 हजार 350 रुपए एवं दाउस टेडर्स को 1 जाख 97 हजार 650 रू का भुगतान किया गया है जो राशि निर्माण से दोगुना है साथ ही जो निर्माण कार्य हुआ है वह भी गुणवत्ताहीन है।


इनका कहना है

मेरे द्वारा किसी भी तरह की अनियमितता नही की गयी है पूर्व मे शिकायतकर्ताओ से मेरा विवाद हुआ था। उनके विरूद्ध मामला भी दर्ज है। जिसके कारण शिकायतकर्ताओ के व्दारा रंजिशवश मेरे विरूद्ध शिकायतें की जा रही है।


अजय सोंधिया, रोजगार सहायक।
प्रभारी सचिव व रोजगार सहायक के विरूद्ध शिकायत प्राप्त हुई है मामला गंभीर है जंाच समिति बनाकर जांच करवाई जावेगी, जांच प्रतिवेदन के आधार पर आगे कार्यवाही की जावेगी।
ओंकार सिंह, सीईओ जनपद पंचायत शहपुरा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned