हाई स्कूल व कन्या छात्रावास चाडा में बच्चों को दी मैत्री पूर्ण जानकारी

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण डिंडोरी द्वारा कार्यक्रम का आयोजन

डिंडोरी. जिला एवं सत्र न्यायाधीश/अध्यक्ष डी एन मिश्र के मार्गदर्शन में राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली द्वारा संचालित योजनाओं के संबंध में शासकीय हाई स्कूल एवं कन्या छात्रावास चाडा में बच्चों को मैंत्रीपूर्ण विधिक सेवाएं और उनके संरक्षण के लिए विधिक सेवा योजना 2015 के अंतर्गत व भारतीय संविधान के मौलिक कर्तव्य विषय पर विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। उक्त शिविर में प्रतिभा साठवणे सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण डिंडोरी द्वारा छात्र-छात्राओं को बच्चों को मैंत्रीपूर्ण विधिक सेवाएं और उनके संरक्षण के लिए विधिक सेवाएं योजना 2015 के अंतर्गत जानकारी देते हुए बच्चों को स्वस्थ्य एवं सामान्य ढंग से तथा स्वतन्त्रता व गौरवपूर्ण परिस्थिति में उनका शारीरिक, मानसिक, नैतिक, आध्यात्मिक तथा सामाजिक विकास करने के योग्य बनाने के लिए सिद्धांतों को अधिकथित किया है। इसी प्रकार भारत के संविधान के अनुच्छेद 22 के अंतर्गत प्रत्येक नागरिक का संवैधानिक अधिकार है, भारतीय संविधान बच्चों को देश के नागरिक की तरह अधिकार प्रदान करता है तथा उनका विशेष स्तर बनाये रखते हुए राज्य ने विशेष कानून भी बनाये हैं और अनुच्छेद 21 अ के अनुसार छ: वर्ष से चौदह वर्ष तक की आयु वाले सभी बच्चों को नि:शुल्क शिक्षा प्राप्त करने के लिए प्रावधान है। इसी प्रकार लीड बैंक के वित्तीय सलाहकार वीरेन्द्र सिंह के द्वारा बैंकों के माध्यम से बच्चों को शिक्षा हेतु ऋण के संबंध में जानकारी दी गई और मोबाईल या अन्य किसी भी प्रकार से यदि वह एटीएम का पासवर्ड या आपके खाते की जानकारी किसी भी व्यक्ति द्वारा मांगने पर न बतायें तथा तुरंत बैंक शाखा से संपर्क करने हेतु बताया गया। शिविर में पैरालीगल वालेंटियर्स मदन कुमार मरावी एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण डिंडोरी के कर्मचारी विश्वनाथ पाण्डे उपस्थित रहे।

Rajkumar yadav Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned