scriptIn this district of Madhya Pradesh, the human-elephant face-off is hap | मध्यप्रदेश के इस जिले में प्रतिदिन हो रहा मानव-हाथियों का आमना-सामना, दीवारों को तोड़ खा रहे अनाज | Patrika News

मध्यप्रदेश के इस जिले में प्रतिदिन हो रहा मानव-हाथियों का आमना-सामना, दीवारों को तोड़ खा रहे अनाज

इंसानी बसाहटों की ओर हाथियों का रुख, दो अलग-अलग झुंडों का डेरा

डिंडोरी

Published: June 01, 2022 12:47:10 pm

डिंडोरी. जंगली हाथियों को अब अनाज की लत लग गई है। जिले में एक के बाद एक हाथियों के हमले हो रहे है। पिछले दो सप्ताह से हाथियों के झुंड ग्रामीणों के घरों को निशाना बना रहे है और घर मे रखा अनाज चट कर जा रहे हैं। इस दौरान हाथियों के हमले में करीब आधा दर्जन लोग घायल हुए हैं और एक महिला की मौत हो चुकी है। हाथी लोगों के आशियानों को भी धराशाई कर रहे हैं। जिससे ग्रामीणों का काफी नुकसान हो रहा है। बीती रात भी हाथियों ने उदरी गांव में हमला किया है। वहीं दूसरी तरफ हाथियों के इन हमलों में वन अमले की लापरवाही भी देखी जा रही है। घटनाओं का एक पहलू यह भी है कि क्षेत्र के जंगलों में लगातार इंसानी दखल बढ़ रहा है। पेड़ों की अवैध कटाई से जंगली जानवर इंसानी बसाहटों की ओर रुख कर रहे हैं। जिसके चलते हाथी मानव द्वंद की स्थिति बनने का भय बना हुआ है।
बस्ती में मचाया था उत्पात
शहर से 5 किलोमीटर दूर कक्ष क्रमांक 399 में ग्राम लुटगांव और धुर्रा के बीच बस्ती में हाथियों के झुंड ने उत्पात मचाया। धुर्रा में हाथी एक मकान को क्षतिग्रस्त कर घर में रखा अनाज और अन्य खाद्य सामग्री खा गए। इसके अलावा जंगली हाथियों ने ऑरेंज वन क्षेत्र के जंगल किनारे स्थित झोपड़ी के बाहर सो रहे वृद्ध बैगा दंपत्ति को भी घायल किया था। हमले में मनसु बैगा पिता अघनु बैगा 70 वर्ष और उसकी पत्नी मंगली बाई 60 वर्ष घायल हो गए थे। जिसके बाद से लगातार जिले के अलग-अलग क्षेत्रों में हाथियों के झुंड का मूवमेंट बना हुआ है।
केस-1
बजाग वनपरिक्षेत्र के चकरार गांव में छह हाथियों ने चार मकानों में नुकसान पहुंचाया था। हाथियों के घरों में तोडफ़ोड करने की वजह से घर में रखा अनाज और गृहस्थी का सामान नष्ट हो गया था। यहां हाथियों ने अनाज चट कर लिया था। चाडा वन ग्राम में हाथियों ने कटहल का पेड़ और बांस के पेड़ों को भी उखाड़ दिया था। इसके बाद हाथी कक्ष क्रमांक 553 की तरफ चले गए। घटना के बाद ग्रामीणों में आक्रोश भी था।
केस-2
23 मई को अनूपपुर जिले की सीमा से जुहला नदी पार कर तीन हाथियों का दल नारायणडीह, बसनिया के जंगलों में पहुंचा था। 24 मई की देर रात बासी देवरी गांव में हाथियों ने खाने के लालच में लोगों के घरों को नुकसान पहुंचाया। यहां हाथी ने घर में सो रही कमलवती को कुचल दिया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई थी। यहां भी हाथियों ने जमकर उत्पात मचाया था। उक्त घटना के बाद ग्रामीण काफी डरे हुए थे।
केस-3
दो दिन पहले हाथियों का झुंड रूसा माल गांव में पहुंचा और दो घरों को क्षतिग्रस्त कर दिया। ग्रामीण जान बचाकर भागे। कोई घर की छत पर चढ़ गया तो कोई गांव छोड़कर जंगल की तरफ भागा। प्रत्यक्षदर्शी परमेश्वर परस्ते ने बताया कि हमारे सामने रसोईघर को तोड़ दिया और बगल वाले कमरे में छेद कर दिया। जिसके बाद रसोईघर में रखा सारा सामान क्षति ग्रस्त हो गया था।
केस-4
बीती रात ग्राम उदरी में एक हाथी ने ग्रामीण राजकुमार के घर में तोडफ़ोड़ करते हुए अंदर रखा पूरा अनाज खा गए। ग्रामीणों ने बताया कि तीन हाथियों के झुण्ड का क्षेत्र में मूवमेंट था। जिसमें से दो हाथी अलग हो गए हैं और एक एक हाथी अलग हो गया है। उन्ही में से एक हाथी ने ग्राम उदारी में ग्रामीणों के घरों को नुकसान पहुंचाया है। जिसके चलते ग्रामीणों में दहशत है।

In this district of Madhya Pradesh, the human-elephant face-off is happening every day, the grains are breaking the walls.
In this district of Madhya Pradesh, the human-elephant face-off is happening every day, the grains are breaking the walls.

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: खतरे में MVA सरकार! समर्थन वापस लेने की तैयारी में शिंदे खेमा, राज्यपाल से जल्द करेंगे संपर्क?Maharashtra Political Crisis: एकनाथ शिंदे की याचिका पर SC ने डिप्टी स्पीकर, महाराष्ट्र पुलिस और केंद्र को भेजा नोटिस, 5 दिन के भीतर जवाब मांगाMaharashtra Political Crisis: सुप्रीम कोर्ट से शिंदे खेमे को मिली राहत, अब 12 जुलाई तक दे सकते है डिप्टी स्पीकर के अयोग्यता नोटिस का जवाब"BJP से डर रही", तीस्ता की गिरफ़्तारी पर पिनाराई विजयन ने कांग्रेस की चुप्पी पर साधा निशानाअंबानी परिवार की सुरक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट कल करेगा सुनवाई, जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर एकनाथ शिंदे ने कहा- यह बालासाहेब के हिंदुत्व और आनंद दिघे के विचारों की जीत हैMaharashtra Political Crisis: शिंदे खेमा काफी ताकतवर, उद्धव ठाकरे के लिए मुश्किल होगा दोबारा शिवसेना को खड़ा करनासचिन पायलट बोले-गहलोत मेरे पितातुल्य, उनकी बातों को अदरवाइज नहीं लेता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.