खनिज निरीक्षक निलंबित, अवैध उत्खनन व परिवहन में संलिप्तता के आरोप

खनिज शाखा में पदस्थ कर्मचारी ने लगाए थे अपर कलेक्टर के फर्जी हस्तार के आरोप

डिंडोरी। अपर कलेक्टर के फर्जी हस्ताक्षर कर कार्यालय में पदस्थ एक कर्मचारी को दूसरी जगह अटैच करने के साथ रेत के अवैध उत्खनन व परिवहन के आरोपो से घिरे खनिज निरीक्षक डिंडोरी सुनील उईके को कलेक्टर द्वारा निलंबित कर दिया गया है। उल्लेखनीय है कि खनिज शाखा में पदस्थ सहायक ग्रेड दो कमल सिंह मार्कों को अपर कलेक्टर के हस्ताक्षर से निर्वाचन शाखा में संलग्न किए जाने संबंधी आदेश जारी किया गया था। जिस पर संबंधित कर्मचारी द्वारा सवाल खड़े करते हुए खनिज अधिकारी पर नियम विरुद्ध कार्य कराए जाने एवं अपर कलेक्टर का फर्जी आदेश बनाकर निर्वाचन शाखा में अटैच करने की शिकायत वरिष्ठ अधिकारियों से की थी। साथ ही कलेक्टर द्वारा जारी निलंबन आदेश में इस आशय का भी उल्लेख किया गया है कि कुछ दिन पूर्व वाट्सअप में खनिज निरीक्षक के आवाज पर वायरल हुए आडियो से खनिज रेत के अवैध उत्खनन व परिवहन करने में संलिप्ता प्रदर्शित होती है।
कलेक्टर व एसपी से शिकायत
विगत दिवस घानाघाट निवासी गणेश ठाकुर ने कलेक्टर डिंडोरी के नाम एक शिकायत पुलिस अधीक्षक कार्यालय में दी है। जिसमे आवेदक ने कांग्रेस नेत्री और खनिज निरीक्षक के अलावा सरपंच पर विकासखंड अमरपुर स्थित ग्राम मोहारी में घाट कटिंग कर बुढनेर नदी से रेत का अवैध खनन व उक्त कार्य के लिये डीजल की व्यवस्था किये जाने का सनसनी खेज आरोप लगाया है। आवेदक ने पत्र में इस बात का भी स्पष्ट उल्लेख किया है कि उक्त सभी रात्रि में मोहारी में आकर अपनी देख रेख में ही नदी से रेत की निकासी कराते थे।
पैसे मांगे तो दी धमकी
आवेदक ने इस बात का भी जिक्र किया है कि जैसे ही मामला प्रकाश में आया तो अवैध खनन किये जाने की जानकारी लगी तो उसने फौरन ही काम बंद कर दिया। इसके बाद खनिज अधिकारी ने ट्रेक्टर और जे सी बी मशीन को खड़े करने की धमकी दी। इसके अलावा जब आवेदक ने अपने किये कार्य के एवज में पैसों की माँग की तो उसे एस टी एस सी एक्ट में फंसाने की धमकी दी जा रही है। जिसकी ऑडियो रिकॉर्डिंग की सी डी बनाकर भी कलेक्टर डिंडोरी और पुलिस अधीक्षक कार्यालय को दिये जाने का जिक्र किया गया है।

Rajkumar yadav
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned