नहीं थम रही लापरवाही,घर का हवाला दे कर रहे दुकानदारी

व्यापारी संघ और ग्रामवासियों ने की पूर्ण लॉकडाउन की मांग

By: Rajkumar yadav

Published: 23 Apr 2020, 10:02 AM IST

डिंडोरी/गाडासरई. जिले के प्रमुख व्यावसायिक केंद्र कहा जाने वाला ग्राम गाडासरई इन दिनों कोरोना से लड़ाई में सहयोग तो कर रहा है पर कुछ लोगों की लापरवाही की वजह से सम्पूर्ण ग्राम को एवं आस पास के ग्रामीणों को भी समस्या का सामना करना पड सकता है। गाडासरई से लगभग 8 किलोमीटर बाद से ब्लॉक करंजिया लग जाता है। जहां कोरोना पॉजिटिव मरीज पाया गया है और गाडासरई में कम से कम 30-40 किलोमीटर एरिये तक के लोग भी सामान लेने पहुंचते है और बाजार में काफी लापरवाही और भीड़ देखी जाती है। यह लापरवाही मुख्यत: सब्जी दुकानों और किराना दुकानो में देखने को मिलती है। जंहा लोग बेखौफ पास पास खड़े होकर सामान खरीदते हैं और तो और सोशल डिस्टेन्स से भी इनको कोई मतलब नहीं है । ये समस्या मुख्यत: 7 से 12 बजे जब मार्केट खुला होता है तभी देखने को मिलती है और व्यापारियों के पास इतना टाईम नहीं होता कि वे लोगों को बोले कि आप दूर दूर खड़ेे रहिए और न ही शासन द्वारा दी गई गाईडलाइन का पालन हो रहा है। वहीं दूसरी ओर देखे तो उस टाइम में पुलिस प्रशासन चुप्पी साधे खडे नजर आती है। इस दौरान कपडे, हार्डवेयर आदि की भी दुकाने खुली देखी गई और ग्राहक समान भी ले रहे थे। वहां अगर उनसे कोई पूछता है कि शासन के आदेश के विरुद्ध आपने दुकान खोली है तो उनका कहना है कि हमारा घर और दुकान का रास्ता एक ही है तो क्या करें। वहीं दूसरी ओर ग्रामवासियों एवं व्यापारी संघ गाडासरई के द्वारा स्वेच्छा से गाडासरई में सम्पूर्ण लॉकडाउन की मांग की जा रही है। उनका कहना है कि जब तक शासन कडाई से पेश नहीं आएगा तब तक लॉकडाउन का उद्देश्य पूरा नहीं हो पायेगा। वहीं गाडासरई के सरपंच बलराम मरावी के द्वारा भी जिला प्रशासन से अनुरोध किया गया है कि संक्रमण की दृष्टि से गाडासरई में 3-4 दिन के लिए बीच बीच मे सम्पूर्ण लॉकडाउन रखा जाए एवं बीच मे 1 दिन की छूट दी जाए जिससे लोग अपने जरूरत के समान ले सके और स्थानीय लोगो द्वारा बताया गया कि जो सब्जियां जबलपुर एवं छत्तीसगढ से आती है उन्हें प्रतिबंध किया जाए। बताया गया कि क्षेत्र के किसान पर्याप्त मात्रा में सब्जी का उत्पादन कर रहे हैं। इस लिये छोटे किसानों से सब्जी लेकर ठेलो में दुकान लगाकर मोहल्ले-मोहल्ले ले जाकर बेची जाए और स्थाई दुकानों में लगने वाली भीडों से निजात पाई जाए। जिससे हमारा क्षेत्र संक्रमण से भी बचा रहेगा। जिले की सारी सीमाए सील करने की मांग की गई । इस दौरान थाना प्रभारी गाड़ासरई को पत्र देकर अपनी मांग रखी गई।

Patrika
Rajkumar yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned