लोगो ने जम कर की खरीददारी, युवाओ और बच्चों ने की मौज

कोहानी देवरी में सजी मड़ई, अहीरों ने की चण्डी पूजा

By: Rajkumar yadav

Published: 08 Dec 2019, 09:57 AM IST

डिंडोरी/शहपुरा. जिले के शहपुरा विकासखण्ड के कोहानी देवरी में मड़ई होने के कारण मड़ई मेले के रूप में भरता है और हजारों लोग इस मड़ई का लुफ्त उठाते देखे जाते हैं। शनिवार को यहां मड़ई में आसपास और दूर-दराज के ग्रामीण भारी संख्या में मड़ई देखने पहुंचे। यह मड़ई दो दिनों तक लगती है ।
खूब बिका सिंघाड़ा-कांदा
मड़ई के अवसर पर मड़ई में आये हुए लोगों ने जमकर सिंघाड़े खरीदे।
मड़ई के दौरान सिंघाड़े करीब 100 रूपये सैकड़ा तक बिका पर दाम की परवाह न करते हुए लोगों ने जमकर खरीदी की। इस मड़ई में ग्रामीण शक्कर व गुड़ की बनी मिठाई व जलेबी की भी खरीदी की। साथ ही ग्रामीण क्षेत्र से आई महिलाओं के लिए मनिहारी दुकान आकर्षण का केन्द्र बनी रही। इस क्षेत्र की पहली मड़ई होने के कारण हर आम आदमी इस मड़ई में विभिन्न वस्तुओं की खरीददारी जमकर की ।
आकर्षण का केन्द्र बना नृत्य
लगभग चार-पांच बजे के करीब अहीरों की टोली नाचते गाते हुए पूजन स्थल पर पहुंची और चंडी का पूजन किया। फिर पूरे अहीर समाज के द्वारा मड़ई विवाह के लिए पूरे मड़ई प्रांगण की परिक्रमा की गई। अहीर अपने ग्राम से नाचते हुए व दान मांगते हुए मड़ई स्थल पर पहुंचे ।
हवाई झूले का उठाया लुत्फ
क्षेत्र की मड़ई में आये दो हवाई झूले व डांस झूला और सर्कस मुख्य आकर्षण का केन्द्र बने रहे। दिन भर बच्चों के साथ बड़ों को भी हवाई झूले का आनंद उठाते देखा गया । साथ ही मडई में चाट, पकौड़े, सिंघाड़े, गुडग़प्पा व मिठाईयों का भी लोगों ने जमकर लुफ्त उठाया।
आज भी रहेगी मड़ई की धूम
कोहानी देवरी में भरने वाली मड़ई दो दिनो की होती है। जिसके तहत पहले दिन तो आसपास के लोग इस मड़ई में आते है व दूसरे दिन भी जिसे स्थानीय भाषा में गुदरी मड़ई कहा जाता है। इसमें स्थानीय लोग भी जमकर खरीददारी करते है और देर शाम तक मड़ई प्रांगण लोगों की भीड़ से खचाखच भरा रहेगा ।

Patrika
Rajkumar yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned