तेज शोर से रहवासी हलाकान

brijesh sirmour

Publish: Feb, 15 2018 05:17:09 PM (IST)

Dindori, Madhya Pradesh, India
तेज शोर से रहवासी हलाकान

दुकान संचालक बजा रहा लाउड स्पीकर

डिंडोरी. नगर के रानी अवंती बाई चौराहा में एक चाय दुकान संचालक के द्वारा सुबह चार बजे से तेज आवाज में साउंड बॉक्स को बजाया जाता है। जिससे बस स्टैंड के आस पास निवास करने वाले लोगों को काफी परेशानी उठानी पड़ती है।
वहीं होटल संचालक को अनेकों बार निवासरत नागरिकों ने समझाईश भी दी, लेकिन होटल संचालक द्वारा नागरिकों की इस शिकायत का कोई प्रभाव नहीं पड़ा। सुबह चार बजे से तेज आवाज में साउंड बॉक्स बजने से लोगों की नींद भी खराब हो रही है। साथ ही पास में जिला चिकित्सालय के आकस्मिक चिकित्सा कक्ष के मरीज परेशान रहते हैं। गौरतलब है कि इस संबंध में आईजी के जनसंवाद में भी स्थानीय व्यापारियों ने मामला उठाया था जिसके बाद कुछ दिनों तक शोर पर अंकुश लगा था लेकिन अब फिर वही हालात बन गये हैं।
-------------------
ग्रामीणों ने कूप कटाई का जताया विरोध
डिंडोरी. वन परिक्षेत्र बजाग अंतर्गत बैगाचक इलाके में वन विभाग द्वारा की जा रही कूप कटाई को लेकर ग्रामीणों ने विरोध दर्ज कराया है। ग्रामीणों ने कलेक्टर को दिये अपने शिकायत में उल्लेख किया हैै कि लगातार वन विभाग द्वारा इस इलाके में पेड़ों की कटाई करने से जल स्त्रोत सूखने लगे हैं। साथ ही प्रतिवर्ष पेड़ों की कटाई से जड़ी बूटियों की बेल भी नष्ट हो रही है। पेड़ों की कटाई के कारण लेंटाना और गाजर घास का भी इलाका बढ़ता जा रहा है। जिसका जंगलों के बीच में बसे ग्रामीणों के स्वास्थ्य पर भी विपरीत असर पड़ रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि लगातार जंगल कटने से जल स्त्रोत सूख रहे हैं और बारह मास बहने वाले नदी नाले में भी जनवरी माह में ही पानी की कमी देखी जा रही है। इसी इलाके से नर्मदा की सहायक नदियों का उद्गम है, लेकिन ये नदियां भी अब सूखने की कगार पर हैं जिससे नर्मदा के जल स्तर में भी कमी महसूस की जाने लगी हैं।

--------------------
जुगदेई में अनियमितता की शिकायत
डिंडोरी. जनपद पंचायत करंजिया अंतर्गत ग्राम पंचायत जुगदेई में सरपंच सचिव और उपयंत्री ने निर्माण कार्य कराये बिना ही राशि का आहरण कर लिया है। जिसकी ग्रामीणों ने कलेक्टर से शिकायत करते हुये जांच की मांग की है। ग्रामीणों ने अपने लिखित शिकायत पत्र में बताया कि शासन की योजना के मुताबिक ग्राम पंचायतों को विकास कार्य के लिए आवंटित राशि में अनियमितताए बरती गयी हैं और फर्जी मूल्यांकन करा राशि का आहरण कर लिया गया है। जिसकी ग्रामीणों ने जांच के बाद दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

 

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned