scriptSant Shiromani Ravidas worked for human welfare | संत शिरोमणि रविदास मानव कल्याण के लिए किया काम | Patrika News

संत शिरोमणि रविदास मानव कल्याण के लिए किया काम

उत्कृष्ट विद्यालय डिंडोरी में संत रविदास जयंती कार्यक्रम
जिले के शैक्षणिक संस्थानों के साथ अलग-अलग जगह हुए कई कार्यक्रम

डिंडोरी

Published: February 17, 2022 05:48:29 pm

डिंडोरी. संत शिरोमणि रविदास ने हमेशा मानव कल्याण और समाज सुधार के लिए काम किया है। सामाजिक कुरीतियों पर कडा प्रहार कर व्यक्ति के कर्मफल पर बल दिया है। उन्होंने कर्म के महत्व को बताया और असहायों की सेवा के लिए लोगों को प्रेरित किया है। उक्त बातें जिला पंचायत अध्यक्ष ज्योतिप्रकाश धुर्वे ने बुधवार को शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय डिंडोरी में संत रविदास जयंती के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहीं। इस अवसर पर पूर्व केबिनेट मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे, भाजपा जिला अध्यक्ष नरेन्द्र राजपूत, नगर पंचायत उपाध्यक्ष महेश पाराशर, कलेक्टर रत्नाकर झा, पुलिस अधीक्षक संजय सिंह, सीईओ जिला पंचायत अंजू अरूण कुमार, एसडीएम डिंडोरी बलवीर रमण, कृषि उप संचालक अश्विनी झारिया, तहसीलदार डिंडोरी बिसन सिंह ठाकुर, अशोक अवधिया परसराम नागेश, अवधराज बिलैया, जयसिंह मरावी, डॉ. शंकर गवले, नरबदिया मरकाम, राकेश चौधरी, रजनी श्रीवास, अन्नू चौहान, फागू गवले, छुन्नूलाल नागेश, बी.डी. बछलहा, बोधन पद्माकर, कुंजन नंदेहा, कीर्ति गुप्ता, शक्ति परस्ते, स्नेहलता सहित विभागीय अधिकारी-कर्मचारी मौजूद थे। मुख्यअतिथि के द्वारा संत शिरोमणि रविदास की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। मुख्यअतिथि के द्वारा उपस्थित संतों का स्वागत किया। कार्यक्रम में संत रविदास के भक्ति पद की प्रस्तुति दी गई। जिले के सभी जनपद पंचायत और ग्राम पंचायत मुख्यालयों में संत रविदास जयंती कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम में स्थानीय जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारी-कर्मचारियों ने भाग लिया। जिला पंचायत अध्यक्ष ज्योति प्रकाष धुर्वे ने कहा कि संत रविदास ने देश में ज्ञान का प्रकाश फैलाया है। दीन दुखियों की सेवा को ही सच्ची मानव सेवा बताया है। उन्होंने समाज में व्याप्त अंधविश्वास एवं कुरीतियों को समाप्त करने का संदेश दिया है। संत रविदास ने हमेशा समानता और भाईचारे पर बल दिया है। जिससे समाज के सभी वर्ग के लोग प्रेमपूर्वक व भाईचारे के साथ रह सकें। इसी का परिणाम है कि समाज समरसता के साथ आगे बढ़ा है। सरकार ने विभिन्न कानून बनाकर समाजिक कुरीतियों को जड़ से समाप्त करने का काम किया है। अनुसूचित जाति वर्ग के हितग्राहियों को शासन की विभिन्न योजनाओं से लाभांवित किया गया है। सरकार अनुसूचित वर्ग के युवाओं के लिए स्वरोजगार कौशल उन्नयन जैसे कार्यक्रम चलाकर आत्मनिर्भर बना रही है। कार्यक्रम में अनुसूचित जाति के हितग्राहियों को शासन की योजनाओं से लाभांवित किया गया। इस अवसर पर कलेक्टर रत्नाकर झा ने अनुसूचित जाति वर्ग के लिए सामुदायिक भवन निर्माण करने की बात कही। उन्होंने कहा कि जिले में सभी वर्ग के लोगों को सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ शासन की योजनाओं से लाभांवित करने का कार्य किया जा रहा है। कार्यक्रम को पूर्व केबिनेट मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे, भाजपा जिला अध्यक्ष नरेन्द्र राजपूत और उपस्थित संत सुमदाय ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कार्यक्रम का एलईडी के माध्यम से लाईव प्रसारण किया गया। जिससे उपस्थित समुदाय ने देखा और सुना। मुख्यमंत्री संत रविदास जयंती पर संत रविदास मंदिर प्रांगण बरखेडा पठानी, भोपाल में आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम में निवास से वुर्चअली सम्मिलित हुए। मुख्यमंत्री ने उपस्थित संतों का वुर्चअली स्वागत किया। कार्यक्रम में संत रविदास के भक्ति पद की प्रस्तुति हुई। जनजातीय कार्य और अनुसूचित जाति कल्याण मंत्री मीना सिंह, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी, पूर्व मंत्री लाल सिंह आर्य, प्रदेश के अनुसूचित जाति मोर्चा के अध्यक्ष कैलाश जाटव, विधायक कृष्णा गौर, संत किशन महाराज, मंगल महाराज, रूपराम महाराज, सदा महाराज तथा अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।
22 गांवों में आचार्य और दीदियों ने किया संपर्क
सरस्वती विद्यालय के प्राचार्य हरि नारायण सिंह एवं प्रधानाचार्य ओम प्रकाश श्रीवास के निर्देश पर विद्यालय के सभी आचार्य व दीदियों ने जिले के 22 गांव में संपर्क किया गया। इस दौरान सभी गांवो के छात्र अभिभावक एवं गणमान्य नागरिकों को एकत्र किया गया। गांव के जन प्रतिनिधि के द्वारा कार्यक्रम की अध्यक्षता की गई। रविदास के छाया चित्र पर माल्यार्पण एवं पूजन अर्चन कर ग्रामीण जनप्रतिनिधि के द्वारा संत रैदास के जीवन परिचय वृतांत किया गया इनकी जीवनी के बारे में ग्रामीणों को बताया गया एवं प्रसाद वितरण किया गया। इन 22 गांव में साधु-संत, छात्र, अभिभावक समेत 831 लोग शामिल हुए।

Sant Shiromani Ravidas worked for human welfare
Sant Shiromani Ravidas worked for human welfare

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

Thailand Open: PV Sindhu ने वर्ल्ड की नंबर 1 खिलाड़ी Akane Yamaguchi को हराकर सेमीफाइनल में बनाई जगहIPL 2022 RR vs CSK Live Updates: शतक बनाने से चूके मोईन अली, चेन्नई ने राजस्थान को जीत के लिए दिया 151 रनों का लक्ष्यसुप्रीम कोर्ट में अपने लास्ट डे पर बोले जस्टिस एलएन राव- 'जज साधु-संन्यासी नहीं होते, हम पर भी होता है काम का दबाव'ज्ञानवापी मस्जिद केसः सुप्रीम कोर्ट का सुझाव, मामला जिला जज के पास भेजा जाए, सभी पक्षों के हित सुरक्षित रखे जाएंशिक्षा मंत्री की बेटी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने दिए बर्खास्त करने के निर्देश, लौटाना होगा 41 महीने का वेतनOla-Uber की मनमानी पर लगेगी लगाम! CCPA ने अनुचित व्यवहार के लिए भेजा नोटिस, 15 दिन में नहीं दिया जवाब तो हो सकती है कार्रवाईHyderabad Encounter Case: सुप्रीम कोर्ट के जांच आयोग ने हैदराबाद एनकाउंटर को बताया फर्जी, पुलिसकर्मी दोषी करारInflation Around World : महंगाई की मार, भारत से ज्यादा ब्रिटेन और अमरीका हैं लाचार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.