एसडीएम शहपुरा ने दिखाई मानवीयता, घायलों को पहुंचाया अस्पताल

shivmangal singh

Publish: Apr, 17 2018 06:03:29 PM (IST)

Dindori, Madhya Pradesh, India
एसडीएम शहपुरा ने दिखाई मानवीयता, घायलों को पहुंचाया अस्पताल

सड़क दुर्घटना में दो घायलों को अपने वाहन में बैठा समय पर कराया उपचार

डिंडोरी। जबलपुर मार्ग के गनेशपुर गांव के पास एक पुलिया के नीचे दो युवक घायल अवस्था में पड़े थे, इस दौरान बड़ी संख्या में वाहन यहां से निकले लेकिन किसी ने इन युवकों की मदद के लिए अपने हाथ नहीं बढाये, इसी बीच डिंडोरी की ओर आ रहे शहपुरा के एसडीएम अमित बम्हरोलिया की नजर यहां भीड़ पर पड़ी और उन्होंने पूरी घटना की जानकारी ली। पुलिया के नीचे पड़े इन दोनों युवकों को उन्होंने सबसे पहले अपने वाहन में बैठाया और जिला चिकित्सालय लाकर उन्हें भर्ती कराया और मौजूद स्वास्थ्य अमले से शीघ्र ही उपचार देने की बात कहकर सीएमएचओ से संपर्क कर उचित ईलाज मुहैया कराने की बात कही। दोनों घायलों का सामने उपचार कराने के बाद अमले से उनकी स्थिति के बारे में भी पूंछा और अमले ने दोनों घायलों को खतरे से बाहर होने की बात कही। जिसके बाद एसडीएम समय सीमा की बैठक में शामिल होने रवाना हुए। जानकारी के मुताबिक रीतेश पिता शिवराम 18 वर्ष निवासी करणपुरा एवं महेश तेकाम पिता मोहन सिंह 45 वर्ष निवासी आनाखेड़ा बाईक में सवार हो शादी का निमंत्रण देने रकरिया आ रहे थे। इसी दौरान बाईक अनियंत्रित होकर पुलिया के नीचे जा गिरी और दोनों घायल हो गये।
दो पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई
डिंडोरी। कोतवाली अंतर्गत जल्दा मुढिय़ा निवासी दो लोगों पर पुलिस ने प्रतिबंधात्मक कार्रवाई करते हुये न्यायालय में इस्तगासा पेश किया है। जहां दोनों को बाउंड ओवर किया गया है। थाना क्षेत्र में अपराधों मे लगाम लगाने और पूर्व में घटित अपराधों के आरोपियों द्वारा पुन: घटना को अंजाम न दिया जाए, इसके चलते लगातार पुलिस द्वारा पूर्व में घटित अपराधों के आरोपियों के विरूद्ध दंडात्मक कार्रवाई की जा रही है। सोमवार को तालाब जाने का रास्ता बंद करने और जमीनी विवाद के जल्दा मुढिय़ा गांव के दो आरोपी धरमू सिंह पिता नानू सिंह 55 वर्ष एवं कोलेराम पिता मोहन मरकाम 56 वर्ष के खिलाफ धारा 107, 116 के तहत प्रतिबंधात्मक कार्रवाई करते हुये इस्तगासा न्यायालय में पेश किया गया है।

Ad Block is Banned