घर की चौखट से अविरल रिस रहा मीठा पानी... जाने क्या मामला

भालापुरी गांव की घटना, ग्रामीण कर रहे हैं पूजा-अर्चना

By: Rajkumar yadav

Published: 04 Jan 2018, 11:05 AM IST

डिंडोरी। समनापुर विकासखंड अंतर्गत भालापुरी गांव मे एक घर की चौखट से लगातार जल स्त्राव लोगों के कोतुहल का विषय बन गया है। पिछले एक माह से यहां मीठे पानी का अविरल गति से रिसना ग्रामीणों के लिये आस्था का सबब भी साबित हो रहा है। जिसके चलते गृह स्वामी ने घर की चौखट को मंदिर की शक्ल देकर कलश स्थापित कर पूजन शुरू कर दिया है। ग्रामीण पानी के रिसाव को नर्मदा उद्गम की उपमा देकर सुबह-शाम रामधुन आयोजित कर जल का आचमन भी आशिर्वाद स्वरूप कर रहे है। ग्रामीणों की धार्मिक आस्था की दलीलों के बीच कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य एवं यांत्रिकी विभाग ने इसे सामान्य क्रिया बताते हुये इसका कारण नजदीक स्थित बड़े जल स्त्रोत को बतलाया है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक भालापुरी निवासी छोटीबाई धुर्वे के घर की चौखट पर पिछले माह नवंबर से एकाएक पानी का रिसाव शुरू हो गया। जिसका सिलसिला अभी भी जारी है और ग्रामीणों ने रिसाव को नर्मदा उद्गम के रूप में परिभाषित कर पूजन शुरू कर दिया। ग्रामीणों के मुताबिक छोटीबाई ने घर की चौखट पर कलश स्थापित कर मंदिर का रूप दे दिया और घर के अंदर प्रवेश हेतु घर की पिछली दीवार तोड़ दरवाजा निर्मित करवा लिया है। घटना के बाद से छोटीबाई के घर पर लोगों का आना शुरू हो गया है तथा दूर दराज से पहुंचकर लोग जल का आचमन कर रहे है।
जमीन से पानी का रिसाव सामान्य क्रिया है। यहां नजदीक में कोई बड़ा जलस्त्रोत होगा। जिसकी वजह से यहां भराव की स्थिति निर्मित हो रही होगी।
डीपी कोरी कार्यपालन यंत्री लोकस्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग डिंडोरी।
योजना दिलाने दिव्यांग से रुपयों की मांग
डिंडोरी. करंजिया विकासखंड अंतर्गत ग्राम पंचायत बुंदेला के दिव्यांग कुंवर सिंह ने मंगलवार को कलेक्ट्रेट पहुंच शिकायत दर्ज कराई है कि शासन की योजना का लाभ दिलाने सरपंच सचिव द्वारा रुपयों की मांग की जा रही है। दिव्यांग कुंवरलाल अपने बेटे के सहारे कलेक्ट्रेट पहुंचा, लेकिन जन सुनवाई के निर्धारित समय पर नहीं पहुंच सका और मौजूद लोगों से अपनी आप बीती सुनाते हुये बताया कि उसे शासन की योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है। इस संबंध मे ग्राम पंचायत मे आयोजित ग्रामसभा के दौरान दिव्यांग पेंशन, खाद्यान्न पर्ची समेत अन्य योजनाओं से संबंधित आवेदन प्रस्तुत किया था, लेकिन सरपंच सचिव द्वारा जान बूझकर उसे लाभांवित होने से वंचित रखा जा रहा है। दिव्यांग ने बतलाया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत अन्य हितग्राहियों मे उसका नाम भी सूची मे शामिल है, लेकिन योजना का लाभ दिलाने हेतु सरपंच सचिव द्वारा राशि की मांग की जा रही है। दिव्यांग ने बताया कि वह लकवा की बीमारी से पीडि़त है और इतनी बड़ी राशि का इंतजाम नहीं कर सकता है। ऐसी दशा में क्या उसे अन्य योजनाओं का लाभ नहीं मिल पायेगा।

Rajkumar yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned