किसान सम्मेलन में अव्यवस्थाएं रही हावी

किसान सम्मेलन में अव्यवस्थाएं रही हावी

Shiv Mangal Singh | Publish: Apr, 17 2018 05:45:42 PM (IST) Dindori, Madhya Pradesh, India

कार्यक्रम में किसानों की संख्या रही कम

डिंडोरी। जिला मुख्यालय के उत्कृष्ट विद्यालय मैदान में कृषि विभाग ने किसानों के सम्मेलन को लेकर तैयारियां की थी लेकिन यहां पर लगभग पांच सौ किसानों के बैठने की व्यवस्था की गई थी, लेकिन उतनी संख्या में किसान यहां नहीं पहुंंचे। मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना अंतर्गत किसान सम्मेलन एवं उत्पादकता प्रोत्साहन राशि वितरण समारोह को लेकर विभाग भी खासा उत्सुक नहीं दिखा, जनप्रतिनिधियों सहित अन्य आमंत्रितों को आमंत्रण कार्ड एक दिन पूर्व रात्रि में और आयोजन के दिन तक वितरित किये गए। यहां अपेक्षित संख्या में किसान नहीं पहुंचे। जिस कारण कार्यक्रम के दौरान एक मिनी ट्रक में भरी कुर्सियां तक नहीं उतारी गई थी। किसानों के लिये आयोजित कार्यक्रम में किसानों का कितना सम्मान किया गया। इसका उदाहरण यहां पर भोजन वितरण के दौरान देखने को मिला। आयोजन के दौरान केबिनेट मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे ने कहा कि प्रदेश में किसानों के कल्याण के लिए हितग्राही मूलक योजनाएं प्रारम्भ की गई हैं। किसानों ने इन योजनाओं का लाभ उठाकर खेती किसानी को लाभ का धंधा बनाया है। यही वजह है कि आज प्रदेश का किसान खुशहाल और समृद्ध है। जिले के किसान अब रबी की फसल की पैदावार भी कर रहे हैं। मंत्री ने कार्यक्रम में श्रमकार्ड, जननी एक्सप्रेस योजना, लाडली लक्ष्मी योजना, एम्बुलेंस 108, डॉयल 100, प्रधानमंत्री आवास योजना एवं शैक्षणिक गतिविधियों के बारे में विस्तार से जानकारी दी।
ग्राम पंचायत में नहीं हुई विशेष ग्रामसभा
डिंडोरी। जनपद पंचायत डिंडोरी अंतर्गत ग्राम पंचायत नेवसा में जारी फरमान के बाद भी ग्रामसभा का आयोजन नहीं हो सका। एक दिन पूर्व ग्राम पंचायत के सचिव द्वारा कोटवार को लिखित पत्र जारी कर ग्राम पंचायत में ग्रामसभा आयोजन के संबंध में मुनादी करने कहा था, जिसके बाद कोटवार ने शुक्रवार की रात्रि मुनादी के माध्यम से शनिवार की दोपहर दो बजे से ग्राम पंचायत भवन में ग्रामसभा आयोजन के संबंध में लोगों को जानकारी दी। शनिवार दोपहर ग्रामीण अपने काम काज छोड़ ग्रामसभा में शामिल होने पहुंचने लगे, लेकिन ग्राम पंचायत भवन में ताला लटका था। ग्रामीण इंतजार करते रहे, लेकिन देर शाम तक ग्राम पंचायत के सरपंच और सचिव सहित नोडल अधिकारी भी नहीं पहुंचे। जिससे ग्रामीणों में आक्रोश देखा गया। ग्रामीणों ने बताया कि अनेकों बार इस तरह से ग्रामीणों को ग्रामसभा के नाम से बुलाया गया, लेकिन सरपंच सचिव नदारद रहे। गौरतलब है कि ग्राम पंचायत नेवसा में निर्माण कार्यों और हितग्राही मूलक कार्यों में भ्रष्टाचार की शिकायत ग्रामीणों द्वारा जनपद पंचायत और जिला पंचायत में भी की गई है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned