साथी के साथ मिल कर्मचारी ने की थी चोरी

दो युवकों को गिरफ्तार किया गया

By: Rajkumar yadav

Published: 04 Jan 2018, 11:10 AM IST

डिंडोरी. नगर में पिछले दिनों कपड़ा और जूता दुकान चोरी के मामलों का खुलासा पुलिस ने कर लिया है। चोरी के आरापे मे दो युवकों को गिरफ्तार किया गया है। जिनमें एक जूता दुकान का कर्मचारी है। जिसने साथी के साथ मिल रविवार-सोमवार की रात जूता दुकान के साथ कपड़ा दुकान को निशाना बना वारदात को अंजाम दिया था। गौरतलब है कि सोमवार की सुबह कपड़ा व्यवसायी नीरज जैन ने शिकायत दर्ज करवा बताया था कि डीडी मार्केट में स्थित उसकी कपड़ा दुकान की शटर मोड़कर अज्ञात बदमाशों ने साड़ी, जींस तथा नगदी पार कर दी है। साथ ही सब्जी मंडी स्थित जूता दुकान संचालक राकेश चौधरी ने भी दुकान का पिछला दरवाजा तोड़ नगदी और जूता चप्पल चोरी की शिकायत की थी। जिस पर धारा 380, 457 के तहत प्रकरण दर्ज हुआ था। वारदात के बाद पुलिस कप्तान कार्तिकेयन के के निर्देश पर सिटी कोतवाली प्रभारी एसएल मरकाम ने पतासाजी कर संदेह के आधार पर आरोपी विजय रैदास तथा शिवचरण हनुमंत से पूछताछ शुरू कर दी। पूछताछ के दौरान दोनों ने चोरी करना स्वीकार कर लिया। जिनकी निशानदेही पर पुलिस ने नगदी तथा चोरी गये सामान को जप्त कर लिया है। कार्रवाई में एएसआई मुकेश बैरागी, प्रधान आरक्षक शिशांक श्रीवास्तव, अशोक उसराठे, धनंजय साहू, अशोक मानकर, आरक्षक भूपेंद्र यादव व कोदू जोगी शामिल रहे।
पागल श्वान के काटने से एक माह में चार की मौत
गाड़ासरई क्षेत्र में दहशत
डिंडोरी. एक माह के अंदर श्वान के काटने से चार लोगों की मौत के बाद गाड़ासरई क्षेत्र में श्वान की दहशत बनी हुई है। जिसके मद्देनजर लोग घरों से निकलने मे डर रहे हैं। वहीं बच्चों और महिलाओं मे खौफ ज्यादा नजर आ रहा है। हैरत की बात है कि घायलों को सरकारी अस्पताल में एंटी रैबिज इंजेक्शन भी उपलब्ध नहीं हो पाये। जिसके चलते स्थिति बिगड़ गई और समय पर ईलाज न मिलने की स्थिति में चार लोगों की मौत हो गई। कमोवेश यही स्थिति समूचे जिले के सरकारी अस्पतालों की है। जहां रैबिज के इंजेक्शनों का टोटा बना हुआ है। पूरे मामले की शिकायत सीएम हेल्प लाईन मे भी दर्ज करवाई गई है, लेकिन आवारा कुत्तों के विरूद्ध कार्रवाई सिफर है। मृतकों के नाम गाड़ासरई निवासी नर्मदा साहू, कृष्ण आनंद सरस्वती मझियाखार, नमन पट्टा भलखोहा, आदर्ष पड़वार किकरा तालाब बतलाये गये हैं। जिन्हे पिछले एक माह के दौरान अलग-अलग समय पर आवारा श्वान ने घायल किया था। क्षेत्रवासियों ने आवारा श्वानों के विरूद्ध कार्रवाई की मांग की है।

Rajkumar yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned