मासूम की मौत से नाराज ग्रामीणों ने डिंडोरी-समनापुर मार्ग पर लगाया जाम

आरोपी को पकडऩे व मृतक के परिजनो को सहायता राशि दिलाने की मांग

By: Rajkumar yadav

Published: 03 Dec 2019, 10:06 AM IST

डिंडोरी. कोतवाली थाना अंतर्गत ग्राम किवटी में रविवार को तेज रफ्तार मोटर सायकिल ने तीन वर्षीय बच्ची को जोरदार टक्कर मार दी थी। जिससे कि बच्ची ने घटना स्थल पर ही दम तोड़ दिया था। घटना से नाराज ग्रामीणों ने परिजनों के साथ मिलकर सोमवार को लगभग 10:30 बजे को बच्ची के मृत देह को रखकर चका जाम कर दिया। नतीजतन राहगीरों और वाहन चालकों को खासी परेशानियों से दो चार होना पडा।
सहायता राशि दिलाने की मांग
समनापुर मुख्य मार्ग पर किवटी ग्राम के ग्रामीणों व मृत बच्ची के परिजनों ने सडक जाम कर दिया। ग्रामीण एक्सीडेंट के आरोपी को पकडने, मुख्य मार्ग पर स्पीड ब्रेकर बनाने तथा मृत बच्ची के परिजनों को शासन से सहायता राशि दिलाए जाने की मांग कर रहे थे। ज्ञात हो कि विगत् दिवस तीन वर्षीय बच्ची राधिका पडवार पिता सतीश पडवार की मोटर साइकिल से टक्कर होने के बाद मृत्यु हो गई थी। घटना के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया था। जिसे अभी तक नहीं पकडा जा सका है। पुलिस प्रशासन की समझाइश एवं अधिकारियों के आश्वासन के बाद ग्रामीणों ने जाम से अलग हुए हैं।
तेजरफ्तार वाहनो में नहीं लगी लगाम
डिंडोरी-समनापुर मुख्यमार्ग पर आए दिन बडी बडी घटना घटित होती है। इसका कारण है कि तेज रफ्तार वाहनों में लगाम नहीं लग रही है। जिससे स्थानीय ग्रामीणों में आक्रोश देखा जा रहा है। बताया गया ग्रामीणों ने वर्षो से स्टॉपर व ब्रेकर की मांग कर रहे है लेकिन उनकी मांग पूर्ण नहीं होने से घटना के दौरान डिंडोरी समनापुर मार्ग को जाम कर दिया। ग्रामीणों की मांग है कि वाहन चालक के विरूद्ध कडी कार्यवाही की जावें। ग्रामीणों ने बताया कि तेज रफ्तार वाहन चालकों के विरूद्ध कार्यवाही नही होती है। इस वजह से वाहन मालिक व चालकों के हौसले बुलंद नजर आ रहे है।
आये दिन होती है दुर्घटना
स्थानीय लोगो का कहना है कि समनापुर डिंडोरी मुख्यमार्ग में पुलिस की सुरक्षा के आभाव के कारण आए दिन दुर्घटना होती है। ग्रामीणों ने ब्रेकर व स्टॉपर की कई बार मांग भी किये है किन्तु अभी तक उनकी मांग को नजर अंदाज कर दिया जाता है। जिसका नतीजा स्पष्ट रूप से देखा जा सकता है। बताया गया कि यदि घटना स्थल पर व्यवस्था नही की गई तो वहां आए दिन हादसे होंगे।
आश्वासन के बाद खुला जाम
ग्रामीणों ने बताया कि घटना स्थल के आसपास तीन शासकीय स्कूल है। जहां पर प्रतिदिन सैकडों की संख्या में बच्चे स्कूल आते है। वहीं ब्रेकर व स्टॉपर न लगने से वाहन तेज रफतार में निकलते है। जिससे दर्जनों घटना हो गई। घटना स्थल पर थाना प्रभारी एंव अन्य अधिकारी भी पहुंचे थे किन्तु ग्रामीणों की मांग पर आश्वासन दिया गया। इसके बाद ग्रामीणों ने जाम खोला।

Patrika
Rajkumar yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned