तेज हवाओ के साथ गिरा पानी और ओला, किसानों की फसल चौपट

दलहनी फसलों को नुकसान, खेतो में बिछी गेहूं की फसल

By: Rajkumar yadav

Published: 07 Mar 2020, 09:57 AM IST

शहपुरा. ओलो की मार से दलहनी फसले चौपट होने की कगार पर है और बेबस किसान कुछ कर नहीं पा रहा है। लगातार पानी, हवा, कोहरा और पाले ने किसानो के सामने रोजी रोटी की समस्या खडी कर दी है। कुछ दिनो पहले हुई बारिश और आसमान में बादलो के छाने से दलहनी फसले जैसे कि मसूर चना आदि कीडे और इल्ली की मार झेल रहे थे कि अचानक फिर मौसम ने करबट बदला और लगातार आधा घंटे तक बारिश और ओलो ने किसान के माथे पर शिकन ला दी है। इतने तक यदि खैर रहती तो बात ही कुछ और रहती परन्तू बारिश के साथ जब पचास पचास ग्राम के ओले बरसे तो किसान की कमर ही टूट गई। ओलो के कारण जहां कुछ किसानो को मामूली नुकसान हुआ तो कई किसानो की फसल पूरी तरह से चौपट हो गई है । ओलो का प्रभाव सबसे ज्यादा बरगावं ,बांकी ,करौदी ,बिलगावं अमेंरा पडरिया,धिरवन जैसे क्षेत्र में देखने को मिला है। जहंा पर ,किसानो में खेत में लगी मसूर ,चना तो पूरी तरह मिट्टी में दब गई और धना और गेहंू की पूरी बाली टूट कर गिर गई है । शुक्रवार की शाम करीब पांच तक मौसम साफ था पर अचानक मौसम ने करवट बदला और तेज हवाओ के साथ पानी और ओले गिरने लगे। जिससे कई लोगो के छप्पर भी उड गये। अचानक मौसम बदलने से एक तरफ तो लोग मौसमी बीमारी से परेशान है वहीं दूसरी तरफ किसान की कमर टूटी जा रही है
आंधी तूफान के साथ बारिश
मेंहदवानी. विकास खंड मुख्यालय मेंहदवानी सहित कठौतिया, सारसडोली तथा आस पास के ग्रामों में शुक्रवार को शाम लगभग 5 बजे आंधी तूफान के साथ तेज बारिश से अच्छा खासा नुकसान हुआ। कई दुकानदारों के टीन शैड उड़े तो कई घरों के खपरे उड़ गए। तेज हवा से पेड़ों की डालियां टूट गई। किसानों ने बताया कि बेमौसम हो रही बरसात से चने मसूर की फसलें प्रभावित हो रही है। जबकि गेहूँ की फसल को आंशिक नुकसान हो रहा है। वहीं ईट का व्यवसाय कर रहे व्यापारी तथा मजदूरों का ज्यादा नुकसान हो रहा है। जो ईंट बनाकर रखे हैं उनमें ढंका प्लास्टिक उड़ जाने से ईंट भीगकर खराब हो गई। खराब मौसम के चलते ईंट भी नहीं बना पा रहे हैं जिससे मजदूरों का नुकसान हो रहा है।
शाम को अचानक गिरे पानी के साथ ओलो ने गेहूं की पूरी बाली तोड दी है साथ ही तेज हवाओ के कारण गेहूं की फसल पूरी जमीन में गिर गइ है। भान प्रसाद साहू, बरगांव
ओला पानी और तेज हवाओ के कारण गेंहू की पूरी फसल खेत पर गिर गई है साथ ही दलहनी फसलें मिट्टी में दब गई।
धनेन्द्र साहू बिलगांव ।

Patrika
Rajkumar yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned