अगर आपके यूरिन में भी है ये समस्या तो जानें क्या हैं कारण

अगर आपके यूरिन में भी है ये समस्या तो जानें क्या हैं कारण

Vikas Gupta | Publish: Dec, 02 2018 04:54:27 PM (IST) डिजीज एंड कंडीशन्‍स

इस समस्या में डॉक्टर यूरीएनेलाइसिस, ब्लड टेस्ट, सीटी स्कैन, एक्सरे और साइटोलॉजी से रोग का पता लगाकर इलाज करते हैं

आपने देखा होगा कि कई बार आपकी पेशाब (यूरिन) का रंग गाढ़ा पीला या लाल हो जाता है और आप समझने लगते हैं कि यूरिन में खून आने लगा है। यूरिन में खून समझकर आप घबरा जाते हैं। लेकिन कभी-कभी एेसा होता है कि चुकंदर, गाजर का रस पीने, पाईरिडियम, लिव- 52, पीलिया होने या पानी कम पीने से भी यूरिन लाल या पीली हो जाती है। यूरिन गाढ़े रंग का हो, जलन या दर्द हो, तो 3-4 गिलास पानी में ग्लूकोज मिलाकर या नींबू पानी पीना चाहिए। इससे यूरिन की समस्या ठीक हो जाती है।

खतरा : अगर आपके यूरिन में ऐसा बार-बार हो रहा है तो यूरिन टेस्ट कराएं क्योंकि यूरिन में रक्त होने पर आप हेमाटूरिया से पीड़ित हो सकते हैं। युवावस्था में यूरिन में ब्लड पथरी या ट्यूबरक्यूलोसिस(टीबी) के कारण आ सकता है। बुजुर्गों में यह ब्लेडर कैंसर व किडनी ट्यूमर आदि की वजह से हो सकता है। मूत्र नली में चोट या संक्रमण के कारण भी पेशाब में ब्लड आ सकता है।

इलाज : इस समस्या में डॉक्टर यूरीएनेलाइसिस, ब्लड टेस्ट, सीटी स्कैन, एक्सरे और साइटोलॉजी से रोग का पता लगाकर इलाज करते हैं।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned