हावड़ा-भागलपुर कविगुरु एक्सप्रेस ट्रेन का परिचालन शुरू,सांसद निशिकांत दूबे ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

हावड़ा-भागलपुर कविगुरु एक्सप्रेस ट्रेन का परिचालन शुरू,सांसद निशिकांत दूबे ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

Prateek Saini | Publish: Nov, 10 2018 08:41:42 PM (IST) | Updated: Nov, 10 2018 08:41:43 PM (IST) Dumka, Dumka, Jharkhand, India

कार्यक्रम में दुमका के सांसद शिबू सोरेन को आमंत्रित नहीं किए जाने से नाराज झामुमो के कार्यकर्ताओं ने दुमका रेलवे स्टेशन पर कार्यक्रम का विरोध किया और नारेबाजी की...

(दुमका): हावड़ा-भागलपुर कविगुरु एक्सप्रेस ट्रेन शनिवार से शुरू हुई। यह ट्रेन हर रोज दुमका से होकर चलेगी। इस ट्रेन के परिचालन का उद्घाटन गोड्डा के सांसद निशिकांत दूबे ने दुमका में किया। मौके पर झारखंड की समाज कल्याण मंत्री लुईस मरांडी और भाजपा नेता शहनवाज हुसैन भी मौजूद थे।


सांसद निशिकांत दूबे ने कहा कि यह ट्रेन संतालपरगना के विकास की एक कड़ी है। आने वाले समय में भागलपुर-हावडा और जसीडीह-हावड़ा रूट पर दुमका से होकर शताब्दी जैसी ट्रेनें भी चलेंगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दुमका के विकास को लेकर गंभीर हैं। इसका नतीजा आने वाले दिनों में और भी व्यापक रूप में दिखेगा।


शिबू सोरेन को नहीं आमंत्रित करने पर झामुमो कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन


कार्यक्रम में दुमका के सांसद शिबू सोरेन को आमंत्रित नहीं किए जाने से नाराज झामुमो के कार्यकर्ताओं ने दुमका रेलवे स्टेशन पर कार्यक्रम का विरोध किया और नारेबाजी की। इस विरोध पर सांसद निशिकांत दूबे ने कहा कि विकास का विरोध क्यों? झामुमो के लोग किस बात का विरोध कर रहें है।


उन्होंने कहा कि वे 10 वर्षों से सांसद है और एक बार भी दुमका सांसद को संसद में बोलते नहीं सुना। ऐसे में शिबू सोरेन को काला झंडा दिखाना चाहिए था और हाथ में कालिख ले कर उनके मुंह पर पोत देना चाहिए।


इस मौके पर मंत्री लुइस मराण्डी ने सीधा हमला करते हुए कहा कि कार्यक्रम स्थल के पीछे जो हरा झंडा लिए लोग है, उन्ही के लोग पिछले 35 वर्षों से दुमका के सांसद है और यहा के विकास के लिए कुछ नहीं किया। अब दुमका विकास के पटरी पर आ चुकी है। इन लोंगों का मंसूबा पूरा नही होने वाला है। यंहा के लोग इन्हें पहचान चुके है।

Ad Block is Banned