कृषि उपकरणों की आड़ में लॉकडाउन में धड़ल्ले से चल रहा था ये व्यापार, प्रशासन की बड़ी कार्रवाई

कृषि उपकरणों की आड़ में लॉकडाउन ( Lockdown ) प्रावधानों का उल्लंघन करते हुए बड़े पैमाने पर बिल्डिंग मटेरियल ( Building Material ) का व्यापार करने पर प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई करते हुए एक व्यापारी की दुकान और गोदाम को सील कर दिया है...

By: dinesh

Updated: 10 May 2020, 11:43 AM IST

डूंगरपुर/चीतरी। कृषि उपकरणों की आड़ में लॉकडाउन ( Lockdown ) प्रावधानों का उल्लंघन करते हुए बड़े पैमाने पर बिल्डिंग मटेरियल ( Building Material ) का व्यापार करने पर प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई करते हुए एक व्यापारी की दुकान और गोदाम को सील कर दिया है। वहीं गोदाम में 500 टन से अधिक बजरी एवं 150 टन से ज्यादा गिट्टी का स्टाक मिलने पर खनिज विभाग भी पृथक से कार्रवाई कर रहा है।

गलियाकोट तहसीलदार रमेशचन्द्र वडेरा को चीतरी में व्यापारी फखरूद्दीन अब्देअली लूलावाला की ओर से कृषि उपकरण, कीटनाशक दवाइयां एवं खाद बीज के व्यापार के बहाने रोजाना भारी मात्रा में बिल्डिंग मटेरियल का व्यापार करने एवं सोशल डिस्टेसिंग, मास्क लगाना आदि की पालना नहीं कर ग्राहकों की भीड़ एकत्र करने की शिकायत मिली। इस पर वडेरा शनिवार को चीतरी थानाधिकारी भानूप्रताप सिंह मय पुलिस जाप्ता के व्यापारी की दुकान पर पहुंचे। दुकान के अंदर बड़े गोदाम में माल सामान खरीदने के लिए 65 लोगों की भीड़ मौजूद मिली। वहीं ट्रैक्टर्स में जेसीबी से बजरी एंव गिट्टी आदि भरते हुए पाए गए। इस पर व्यापारी के विरुद्ध कार्रवाई करते हुए दुकान एवं गोदाम सील कर दिया है। गोदाम में बड़ी मात्रा में बजरी और गिट्टी का स्टाक मिलने पर खनिज विभाग को सूचित किया। इस पर खनिज कार्यानुदेशक शांतिलाल अहारी भी मौके पर पहुंचे तथा पृथक से कार्रवाई शुरू की।

कार्रवाई में नायब तहसीलदार वीरेंद्रसिंह राठौड़, रीडर नरेन्द्रसिंह चौहान, गिरदावर लालशंकर बुनकर, गजेन्द्र चौबीसा, जगराम मीणा, पटवारी दिनकर पाटीदार, जयेश पाटीदार, पुष्पक भट्ट, एसआई लालसिंह, बलभद्रसिंह, हैड कांस्टेबल अशोक पाटीदार आदि शामिल थे।

पहले भी किया था सील
तहसीलदार वडेरा ने बताया कि उक्त व्यापारी की ओर से सरकार के आदेश की अवेहलना करने पर पूर्व में भी दो बार कार्रवाई कर दुकान और गोदाम सील किया था। इस पर व्यापारी ने लिखित माफी नामा पेश कर प्रशासन के आदेश अनुसार सिर्फ कृषि यंत्र का व्यापार करने की अनुमति मांगी गई। इस पर पाबंद करते हुए कृषि सम्बन्धी व्यापार की अनुमति दी थी, लेकिन व्यापारी ने उसकी आड़ में अन्य व्यापार किया। गोदाम में भीड जमा कर मानव स्वास्थ्य पर खतरा पैदा किया।

dinesh Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned