बच्चा चोरी की अफवाह से पुलिस की परेड, घर के कोने से जागकर सामने आई बच्ची तो सभी को मिली राहत

बच्चा चोरी की अफवाह से पुलिस की परेड, घर के कोने से जागकर सामने आई बच्ची तो सभी को मिली राहत
बच्चा चोरी की अफवाह से पुलिस की परेड, घर के कोने से जागकर सामने आई बच्ची तो सभी को मिली राहत

abdul bari | Updated: 01 Sep 2019, 09:54:22 PM (IST) Dungarpur, Dungarpur, Rajasthan, India

बच्चा चोरी करने वाले गिरोह के सक्रिय होने की फैल रही अफवाहों ( child theft Rumor in dungarpur ) के चलते रविवार को दो अलग अलग थानो में पुलिस ( dungarpur police ) की परेड हो गई। पहला मामला रामसागडा थाना अन्तर्गत गैंजी में हुआ यहां रविवार सुबह करीब 11 बजे बच्चा चोर गिरोह के सक्रिय होने की अफवाह ( child theft Rumor in rajasthan ) फैल गई।

थाणा/डूंगरपुर.
शहर सहित ग्रामीण इलाकों में पिछले कई दिनों से बच्चा चोरी करने वाले गिरोह के सक्रिय होने की फैल रही अफवाहों ( child theft Rumor in dungarpur ) के चलते रविवार को दो अलग अलग थानो में पुलिस ( dungarpur police ) की परेड हो गई। पहला मामला रामसागडा थाना अन्तर्गत गैंजी में हुआ यहां रविवार सुबह करीब 11 बजे बच्चा चोर गिरोह के सक्रिय होने की अफवाह ( child theft Rumor in rajasthan ) फैल गई।

यहां गैजी निवासी पूर्वी पुत्री पूंजीलाल यादव की 8 वर्षिय बच्ची आंगन में खेलते हुए गुम हो गई। इस पर परिजनों ने आस-पास तलाश करना शुरू किया। लेकिन बच्ची के कहीं भी नजर नहीं आने पर परिजनों ने पुलिस को सुचना दी। इस पर पुलिस ने भी तलाशने के हर संभव प्रयास किए। यह बात आग की तरह सोशल मिडिया पर भी फैल गई। करीब तीन बजे बाद बच्ची घर के अन्दर ही एक आलिए में बैठी मिली। इस पर परिजनों व पुलिस ने राहत की सांस ली।

बच्ची के घर के अन्दर ही आलिए में नींद की झपकी आने की बात कही जा रही है। परिजनों ने घर के अन्दर अच्छी तरह से तलाश नहीं कर आस-पास खोजबीन शुरू कर दी। इस पूरे घटनाक्रम में करीब पांच घंटे बीत गए। इस दौरान पुलिस की अच्छी-खासी परेड हो गई।


इनका कहना है...

यह सब अफवाहे हैं बच्ची घर के अन्दर ही एक आलिए में बैठी हुई थी। परिजनों को आंगन में बच्ची नजर नहीं आने पर अफवाहों के चलते आस-पास बाहर तलाशना शुरू कर दिया। अच्छे से घर के अन्दर देखा तो बच्ची सही सलामत थी।


यहां भी बच्चा चोरी की खबर फैलते ही ग्रामीण हो गए जमा ( suspected of child theft )

दूसरी ओर बलवाडा में भी कुछ इसी तरह का मामला सामने आया। यहां निवासी 14 वर्षिय रीना पुत्री हुका डेण्डोर ने बताया कि दोपहर करीब डेढ बजे डूंगरपुर की ओर से आ रही सफेद रंग की कार सवार ने बलवाडा पुल के समीप से गूजर रहे करीब 14-15 वर्षिय एक बालक व बालिका को कार में बैठा कर ले जा रहे थे। इस दौरान प्रत्यक्षदर्शी कूछ दूरी पर अपने मवेशियों को चरा रही थी। खबर फैलते ही ग्रामीण एकत्र हो गए।

सुचना पर कोतवाली पुलिस भी पहूंची, लेकिन आस-पास क्षेत्र के किसी भी बच्चे की गुमशुदगी नहीं होना बताया गया। ऐसे में पुलिस ने भी महज अफवाह बता पल्ला जाड़ दिया। लेकिन प्रत्यक्षदर्शी के अनुसार यह बात कितनी सत्य है यह गर्त में ही है।

पुलिस का कहना है कि इस तरह की अफवाहे नहीं फैलाए अगर किसी ने बच्चा चोर को देखा हो तो हमे बताए। परमेश्वर पाटीदार रामसागडा थानाधिकारी।

 

यह खबरें भी पढ़ें...

गणेश चतुर्थी पर आएं-जाएं तो रखें ध्यान, जयपुर में ये रहेगी यातायात व्यवस्था


नदी के तेज बहाव में युवक डूबा, बचाने गई रेस्क्यू टीम की नाव भी पलटी

 

आनंदपाल गैंग के तीन गुर्गे जेल में अड़े अपनी मांग पर, पिछले चार दिन से भोजन छोड़ा, तबीयत बिगडऩे पर भर्ती

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned