पति ने महिला कांस्टेबल पत्नी से दुष्कर्म का लगाया आरोप, महिला बोली, पति ने दी झूठी रिपोर्ट पति ने सहकर्मी पर लगाए आरोप

डूंगरपुर.
एमबीसी की महिला कांस्टेबल के पति ने पत्नी के सहकर्मी पर दुष्कर्म का आरोप लगाते हुए कोतवाली थाने में प्रकरण दर्ज कराया। वहीं दूसरी ओर बयान लेने पहुंची पुलिस को महिला ने ऐसी कोई घटना होना नहीं बताया। इससे पुलिस भी अब जांच को लेकर पशोपेश में है।

By: Harmesh Tailor

Published: 22 Feb 2021, 02:56 PM IST

डूंगरपुर.
एमबीसी की महिला कांस्टेबल के पति ने पत्नी के सहकर्मी पर दुष्कर्म का आरोप लगाते हुए कोतवाली थाने में प्रकरण दर्ज कराया। वहीं दूसरी ओर बयान लेने पहुंची पुलिस को महिला ने ऐसी कोई घटना होना नहीं बताया। इससे पुलिस भी अब जांच को लेकर पशोपेश में है।
यह है मामला
महिला कांस्टेबल के पति ने 12 फरवरी को कोतवाली थाने में रिपोर्ट दी। इसमें बताया कि प्रार्थी अहमदाबाद में प्राइवेट जॉब करता है। उसकी पत्नी एमबीसी में महिला कांस्टेबल के पद पर कार्यरत है तथा वर्तमान में डूंगरपुर रिजर्व पुलिस लाइन में एचेटमेंट है। आरोपी भी एमबीसी में है। ९ फरवरी को प्रार्थी के ससुर ने फोन पर बताया कि बेटी घर आ गई है तथा तबीयत ठीक नहीं होना बता रही है। डॉक्टर से जांच कराने पर उसने कोई बीमारी नहीं बल्कि अवसाद में होना बताया है। इस पर प्रार्थी अपने ससुराल पहुंचा तथा पत्नी को समझाया। इस पर पत्नी ने बताया कि ८ फरवरी को वह पुलिस लाइन के बैरक में अकेली थी। सुबह 11 बजे आरोपी बैरक में आया तथा शारीरिक संबंध बनाने के लिए दबाव बनाने लगा। मना करने पर बेटे को मारने की धमकी देकर यौन उत्पीडऩ किया। इससे घबराकर वह नौकरी से गैर हाजिर होकर पीहर आ गई। रिपोर्ट में यह भी बताया कि आरोपी की शादी पीडि़ता के पीहर के पड़ौस के गांव में हुई है। इसलिए वह उसे साली कहते हुए नजदीकियां बढ़ाने की कोशिश करता था। पुलिस ने १७ फरवरी को भादंसं की धारा ३५४ के तहत प्रकरण दर्ज किया।
महिला ने झूठलाया
मामले की भनक लगने पर पुलिस अधिकारियों से जानकारी लेने का प्रयास किया। इस पर पुलिस आनन फानन में महिला के बयान लेने पहुंची। थानाधिकारी दिलीपदान ने बताया कि पुलिस को दिए बयानों में महिला ने आरोपों को झूठला दिया है। महिला का कहना है कि पति उस पर शक करता है इससे उनका मनमुटाव चल रहा है। इसी वजह से उसने मुकदमा दर्ज करा दिया है, ऐसी कोई घटना नहीं हुई।

इनका कहना. . .
महिला और आरोपी का पुराना परिचय है। पीडि़ता के पति ने रिपोर्ट दी थी। पीडि़ता के बयान लेने पर उसने ऐसी कोई घटना नहीं होना बताया है। विस्तृत जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकेगा।
सुधीर जोशी, जिला पुलिस अधीक्षक, डूंगरपुर

Harmesh Tailor Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned