चीखली में सहायक अभियंता कार्यालय की दरकार

डूंगरपुर (चीखली). बिजली निगम के अधिक दबाव के चलते जिले के चीखली पंचायत समिति मुख्यालय पर सहायक अभियंता कार्यालय खोलने की मांग क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों ने की है। क्षेत्र विस्तृत होने के कारण यहां सहायक अभियंता कार्यालय होना अतिआश्वयक है, जिससे उपभोक्ताओं आ रही समस्याओं से निजात मिलेगी। फिलहाल चीतरी विद्युत स्टेशन से गरियाता, पारड़ा विष्णुजी, कुआं, बावड़ी जीएसएस संचालित हैं। इसमें चीखली व गलियाकोट पंचायत समिति की ग्राम पंचायतों में बिजली सप्लाई पहुंचती हैं।

By: Harmesh Tailor

Updated: 16 Apr 2021, 05:26 PM IST

डूंगरपुर (चीखली). बिजली निगम के अधिक दबाव के चलते जिले के चीखली पंचायत समिति मुख्यालय पर सहायक अभियंता कार्यालय खोलने की मांग क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों ने की है। क्षेत्र विस्तृत होने के कारण यहां सहायक अभियंता कार्यालय होना अतिआश्वयक है, जिससे उपभोक्ताओं आ रही समस्याओं से निजात मिलेगी। फिलहाल चीतरी विद्युत स्टेशन से गरियाता, पारड़ा विष्णुजी, कुआं, बावड़ी जीएसएस संचालित हैं। इसमें चीखली व गलियाकोट पंचायत समिति की ग्राम पंचायतों में बिजली सप्लाई पहुंचती हैं।
क्षेत्र है विस्तृत
कस्बे के समीप पारड़ा विष्णुजी में विद्युत स्टेशन स्थित है। चीखली पंचायत समिति की चीखली, साकोदरा, सालेड़ा एवं गलियाकोट पंचायत समिति की जसेला, गड़ामेड़तिया, रामसौर ग्राम पंचायत जुड़ी हैं। वहीं बावडी जीएसएस के अन्र्तगत बावड़ी, बडग़ामा, अंबाडा, कोचरी ग्राम पंचायत आती हैं। कुआं जीएसएस से कुआं, धनगांव, भचडिय़ा खास, उदडिय़ा, गुन्दलारा, डूंगर, डूंगरसारण, ढूंढी, सेंडोला ग्राम पंचायत के सैंकडों गांव शामिल हैं। वहीं चीखली पंचायत समिति की कुल ६ ग्राम पंचायतों में धम्बोला स्टेशन से बिजली सप्लाई आ रही हैं।
कार्मिकों का टोटा
पारड़ा विष्णुजी, बावडी, कुआं, के अन्र्तगत फैली चीतरी विद्युत स्टेशन की बिजली के रखरखाव, बकाया वसूली सहित अन्य कार्यो के लिए लंबे समय से कार्मिकों की कमी के चलते समस्या आ रही हैं। पारड़ा विष्णुजी जीएसएस में महत दो कार्मिक, बावडी में दो व कुआं में भी दो कार्मिक के भरोसे संचालित हैं। ऐसे में इतना बड़ा क्षेत्र होने के बाद भी कार्मिकों की भरपाई नहीं होने से अत्यधिक भार हैं। पारड़ा विष्णुजी में कुल ८ फीडर, बावडी में ५ व कुआं में ६ फीडर संचालित हैं।
समस्याओं का हो सकेगा समाधान
चीखली में बिजली के बिल संबधी परेशानियां, नए कलेक्शन आवेदन करने सहित छोटी-बड़ी समस्याओं का समय रहते ही समाधान सहित अन्य सैकड़ों दिक्कतें दूर होगी। क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों ने बताया कि सागवाड़ा के बाद देखें तो बिजली संकट चीखली क्षेत्र पर मडऱाता है। सागवाड़ा बड़ा विद्युत स्टेशन है। चीखली कस्बे में विस्तृत क्षेत्र को देखते हुए चीखली में सहायक अभियंता कार्यालय होना जरूरी है। लेकिन पूर्व में चीखली को ना देकर चीतरी में कार्यालय खोल दिया गया, लेकिन उससे इस क्षेत्र की समस्याओं का समाधान नहीं हो पाया है।
इनका कहना है...
&क्षेत्र विस्तृत होने से परेशानी तो आ रही है। चीखली सहायक अभियंता कार्यालय खुलने से चीतरी पर भी दबाव कम होगा। फिलहाल पारड़ा विष्णुजी, कुआं, बावड़ी जीएसएस हैं। जहां पर कार्मिकों की कमी सबसे बड़ी समस्या बनी हुई हैं। हर बार बैठकों में इस समस्या को अवगत कराया जा रहा हैं।
- मुरलीधर मालव, सहायक अभियंता चीतरी

Harmesh Tailor Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned