डूंगरपुर : प्रबोधक उतरे सामूहिक अवकाश पर, किया धरना प्रदर्शन

मुख्यमंत्री व शिक्षामंत्री के नाम कलक्टर को ज्ञापन, बांसवाड़ा में भी प्रदर्शन

 

By: Ashish vajpayee

Published: 11 Sep 2017, 06:27 PM IST

डूंगरपुर. अखिल राजस्थान पबोधक संघ के प्रदेश निर्णय अनुसार उदयपुर संभाग के सभी जिला मुख्यालय पर जिले के समस्त प्रबोधक सामूहिक अवकाश पर रहें। इसके तहत जिला मुख्यालय पर भी कलेक्टरी के बाहर धरना दिया। इसमे जिले भर के प्रबोधक सामूहिक अवकाश पर उतर प्रदर्शन कर रहे हैं। जिला अध्यक्ष देवेंद्र जैन के नेतृव में शामिल हुए प्रबोधक नारेबांजी कर मांगे रख रहे है। प्रमुख मांगो में वेतन विसंगति, पदोंनन्ति, पूर्व में दी गई सेवाओ की सेवाकाल में गणना आदि हैं।

बांसवाड़ा में भी प्रबोधकों ने किया सामूहिक अवकाश
बांसवाड़ा। अखिल राजस्थान प्रबोधक संघ की ओर अपनी लंबित मांगों पर मुख्यमंत्री के ध्यानाकर्षण के लिए सोमवार को जिला मुख्यालय पर धरना-प्रदर्शन किया गया। जिलेभर के प्रबोधक सामूहिक अवकाश पर रहे और धरने में शामिल हुए। दोपहर बाद उन्होंने मुख्यमंत्री व शिक्षामंत्री के नाम ज्ञापन दिया।

जिलेभर के प्रबोधक सुबह 10 बजे पहले ही कलक्ट्री के बाहर एकत्र होना शुरू हो गए थे। करीब साढ़े दस बजे धरना शुरू किया। इस अवसर पर वक्ताओं ने कहा कि प्रबोधकों की जायज मांगों को पूरा करने के लिए सरकार से कई बार आग्रह किया, लेकिन सरकार ध्यान नहीं दे रही है। उन्होंने विशेष रूप से प्रबोधकों को तृतीय श्रेणी शिक्षक वेतन शृंखला देने की पुरजोर मांग की। धरने को जिलाध्यक्ष मनोज जोशी, भरत पुरोहित, कुंदन उपाध्याय, नारायणलाल चरपोटा, मणिलाल, जीतेंद्रसिंह, नरवरसिंह लबाना, फिरदौस खान पठान सहित कई पदाधिकारियों ने संबोधित किया। दोपहर करीब पौने तीन बजे प्रबोधकों ने ज्ञापन सौंपा। संचालन रविन्द्र पाटीदार ने किया। मांगों का वाचन दीपक मेहता ने किया।

यह रही मांगें
- प्रबोधक सेवा नियम 2008 के नियमों के तहत योग्यताधारी प्रबोधकों के माध्यमिक और उच्च माध्यमिक विद्यालयों में पद सृजित किए जाएं और हेड टीचर भी बनाया जाए।
- प्रबोधकों का स्थानांतरण गृह जिले, गृह पंचायत समिति व गृह पंचायत में किया जाए।
- गंभीर बीमारी से पीडि़त व पारस्परिक स्थानांतरण शिक्षकों के समान किए जाए।
- प्रबोधकों की पूर्व में पैराटीचर, शिक्षाकर्मी, लोकजुंबिश व मदरसा कार्मिकों की सेवा जोड़ी जाए और पुरानी पेंशन लागृू की जाए।
- प्रबोधकों को सामान्य अध्यापक बनाया जाए।
- 2008 में नियुक्त प्रबोधकों की वेतन विसंगति को दूर किया जाए।
- सातवे वेतन आयोग की सिफारिश में हुए संशोधन का लाभ प्रबोधकों को दिया जाए।

 

शिक्षाकर्मियों की मासिक बैठक आज
जिले के बांसवाड़ा ब्लॉक के तहत कार्यरत शिक्षाकर्मियों की मासिक बैठक मंगलवार को दोपहर तीन बजे ब्लॉक कार्यालय में होगी। बैठक में शिक्षाकर्मियों को योग्यता प्रमाण पत्र, तीन फोटो सहित अन्य दस्तावेजों के साथ उपस्थित होना होगा। यह जानकारी बीईईओ दीनबंधु भट्ट ने दी।

Ashish vajpayee
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned