डूंगरपुर : सरपंच,पूर्व सरपंच एवं कनिष्ठ लिपिक को कक्ष में किया बंद

Ashish vajpayee

Publish: Sep, 16 2017 09:38:56 (IST)

Dungarpur, Rajasthan, India
डूंगरपुर : सरपंच,पूर्व सरपंच एवं कनिष्ठ लिपिक को कक्ष में किया बंद

सिलोही में ग्रामीणों का फूटा गुस्सा,योजनाओं के क्रियान्वयन में गड़बड़ी करने के लगाए आरोप

 

 डूंगरपुर . चीतरी. राज्य सरकार की योजनाओं के क्रियान्वयन में लापरवाही बरतने के कथित आरोप में सिलोही गांव के ग्रामीणों का गुस्सा शनिवार को फूट पड़ा। आक्रोशित ग्रामीणों ने प्रदर्शन कर सरपंच, पूर्व सचिव एवं कनिष्ठ लिपिक को ही भवन मेें बंद कर दिया। आगे से ताला लगाकर जमकर प्रदर्शन किया। इस दौरान ग्रामीणों में खासा आक्रोश नजर आया। घटना को लेकर ग्रामीणों ने बताया कि ग्रामी पंचायत में दो-तीन वर्ष से सरकार की योजनाओं के क्रियान्वयन में भारी लापरवाही बरती जा रही है। ग्रामीणों के अनुसार खुले में शौचमुक्त भारत अभियान के तहत शौचालय बनाने का कार्य ठेकेदार से करवाया। पर, इससे भारी गड़बडिय़ां बरती गई है।

ग्रामीणों ने सरपंच - कनिष्ठ लिपिक के विरुद्ध प्रदर्शन किया और विरोध जताया। ग्रामीणों ने बताया कि पंचायत भवन पर सचिव ललित का स्थानांतरण हुए आठ माह हो गए हैं। पर,अब तक नए सचिव को चार्ज नहीं दिया है। साथ ही ग्रामीणों ने कहा कि पूरे मामले को लेकर सागवाड़ा विधायक अनिता कटारा एवं प्रधान सूर्या अहारी के भी बता रखा है। पर, आज तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। इधर, नवनियुक्त सचिव दिनेश पाटीदार ने कहा कि मुझे पूर्व सचिव ललित डामोर ने अब तक एंकाउंट चार्ज व आय व्यय का हिसाब नहीं दिया है। जिस कारण समस्या हो रही है।

लंबे समय से आ रही समस्या
घटना को लेकर ग्रामीणों ने बताया कि क्षेत्र में लंबे समय से समस्या आ रही है। गांवों में रोजमर्रा की जरूरतों के लिए परेशान होना पड़ता है। गांव में सडक़ों की समस्या है, लोगों को समुचित पानी उपलब्ध नहीं हो पा रहा। सडक़े खस्ताहाल हो चुकी हैं। नालियां भरी पड़ी है। इतना ही अनेक समस्या हैं। जिनसे पंचायत का प्रत्येक ग्रामीण झूझ रहा है। लेकिन पंचायत के कर्मचारियों और सरंपच को ग्रामीणों को पड़ी ही नही है। जिस कारण सभी परेशान होना पड़ता है। रोज-रोज की समस्या से तंग आकर ग्रामीणों ने यह कदम उठाया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned