उपसरपंच के घर पर बन रही थी नकली शराब, पुलिस ने मारा छापा

उपसरपंच के घर पर बन रही थी नकली शराब, पुलिस ने मारा छापा
उपसरपंच के घर पर बन रही थी नकली शराब, पुलिस ने मारा छापा

Vinay Sompura | Updated: 12 Oct 2019, 07:36:51 PM (IST) Dungarpur, Dungarpur, Rajasthan, India

आसपुर पुलिस ने गोल ग्राम पंचायत के उपसरपंच के घर पर दबिश देकर नकली शराब बनाने की फेक्ट्री का भण्डाफोड़ किया। मौके से भारी मात्रा मेें नकली शराब, स्प्रीट, उपकरण व दो कारें आदि बरामद हुए। उपसरपंच सहित उसका बेटा मौके से फरार हो गए।

उपसरपंच के घर पर बन रही थी नकली शराब, पुलिस ने मारा छापा
- भारी मात्रा में नकली शराब, स्प्रीट, पेकिंग मशीनें, ब्रांडेड शराबों के लेबल, दो कारें जब्त
- आसपुर पुलिस की कार्रवाई
- उपसरपंच सहित पुत्र के खिलाफ प्रकरण दर्ज
आसपुर (डूंगरपुर).
आसपुर पुलिस ने गोल ग्राम पंचायत के उपसरपंच के घर पर दबिश देकर नकली शराब बनाने की फेक्ट्री का भण्डाफोड़ किया। मौके से भारी मात्रा मेें नकली शराब, स्प्रीट, उपकरण व दो कारें आदि बरामद हुए। उपसरपंच सहित उसका बेटा मौके से फरार हो गए। पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
जिला पुलिस अधीक्षक जय यादव ने बताया कि आसपुर थानाधिकारी रिजवान खान को मुखबिर से सूचना मिली कि गोल गांव में बड़े पैमाने पर नकली शराब बनाई जा रही है। इस पर थानाधिकारी मय जाप्ते के गोल गांव में बीएसएनएल टावर के पास स्थित गोपाल पुत्र हेमराज मेहता के मकान पर पहुंचे। बाहर बाड़े में लगा लोहे का दरवाजा अंदर से बंद था, उसे खोल कर पुलिस दल अंदर गया। वहां एक टवेरा गाड़ी खड़ी थी। उसे चेक करने पर नकली रॉयल स्टेग विस्की के 22 कर्टन पाए गए। एक अन्य हुण्डई कार में भी 11 कर्टन भरे हुए थे। मकान के अंदर तलाशी लेने पर नकली शराब बनाने की सामग्री, स्प्रीट आदि बरामद हुए।
यह मिला मौके पर
पुलिस के अनुसार मकान से पेकिंग मशीन, दो ड्रमों में भरी कुल ३१० लीटर स्प्रीट निर्मित नकली शराब, दो ड्रम व एक जरिकेन में कुल २७५ लीटर स्प्रीट, कई महंगे ब्राण्ड के लेबल लगी ७८ कर्टन नकली अंग्रेजी शराब, बोतलों पर ढक्कन सील करने की प्रेशर मशीन, टेप लगाने की दो रॉल मशीन, प्लास्टिक रोल टेप, एल्कोहल नापने के तीन मीटर, दो प्लास्टिक के कट्टों में विभिन्न ब्रांड की खाली बोतलें, अलग-अलग ब्रांड की शराब के स्टीकर, कवर, गत्तों के कर्टन आदि बड़ी मात्रा में बरामद हुए हैं। पुलिस के मौके से दो कारें तथा एक मोटरसाइकिल भी जब्त की। कार्रवाई की सूचना पर उपाधीक्षक निरंजन चारण भी मौके पर पहुंचे तथा अनुसंधान को लेकर दिशा-निर्देश दिए।
वाहनों में मिले दस्तावेज
मकान से जब्त की गई टवेरा कार में से आरसी की फोटोप्रति मिली। इसमें वाहन राजू पुत्र बलव्त भाई भोई निवासी गन्टाली, आणंद गुजरात के नाम से होना पाया गया। साथ ही सुरपुर डूंगरपुर निवासी पंकज पुत्र मानजी पाटीदार का आधार कार्ड भी कार में मिला। हुंडई कार में वाहन ट्रांफसर का लेटर मिला। इसमें वाहन भिवण्डी महाराष्ट्र निवासी शैलेष डी ठक्कर के नाम से होना तथा बोरी बांसवाड़ा निवासी हामेंग पुत्र नाथू पाटीदार के नाम से ट्रांसफर कराना अंकित है। पुलिस ने मौके पर एक मोटरसाइकिल भी जब्त की है।
परकोटा कूद कर भागे पिता-पुत्र
पुलिस टीम के मकान में दाखिल होते ही गोपाल ने टीम को घर के अंदर देख लिया। थानाधिकारी ने बताया कि गोपाल और उसका बेटा बबलू उर्फ धर्मेन्द्र परकोटा कूद कर झाडियों से होते हुए खेतों की तरफ भाग निकले। पुलिस ने पीछा भी किया, लेकिन हाथ नहीं लगे। पुलिस ने दोनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर सरगर्मी से तलाश शुरू कर दी है।
इस टीम ने की कार्रवाई
नकली शराब फेक्ट्री पकडऩे की कार्रवाई में थानाधिकारी सहित हैडकांस्टेबल संजयकुमार, कांस्टेबल गणपतदान, राजेंद्रसिंह, लोकेेंद्रसिंह व रणधीरसिंह शामिल रहे। पूरी कार्रवाई में गणपतदान, राजेंद्रसिंह व लोकेंद्रसिंह की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned