जांच के दायरे में लेम्प्स पुनावाड़ा, निलंबन के पांचवे दिन सौंपी गोदाम की चाबियां

-प्राथमिक तौर पर 230 क्विंटल गेहूं की वसूली
-उलझी है कार्यवाही, पूरे दो वर्ष की हो सकती है जांच

By: Vinay Sompura

Published: 25 Apr 2018, 07:00 AM IST

डूंगरपुर.
जिले में रामसौरजूना स्थित पुनावाड़ा लेम्प्स राशन वितरण में गड़बड़ी के बाद लापरवाही व मनमर्जी का सिलसिला लगातार जारी है। दो माह के राशन वितरण गड़बड़ी व्यवस्था ने संपूर्ण लेम्प्स को जांच के दायरे मेें ला दिया है। निलंबित दुकान, गोदाम की चाबियां चार दिन बाद भी मंगलवार दोपहर तक नियुक्तडीलर को नहीं दी गई। विभाग को अवगत कराने के बाद शाम को चाबियां सौंपी गई। जबकि जिला रसद अधिकारी कलीम अहमद ने २० अप्रेल को पत्र जारी कर दिया था। दावा किया जा रहा है जब नियुक्तडीलर ने चाबियां मांगी तो देने से मना कर दिया। ऐसे में विभाग के आदेश की अवहेलना की गई।

संपूर्ण लेम्प्स की भूमिका सवालों के घेरे में
पुनावाड़ा लेम्प्स राशन वितरण में भारी गड़बडी में व्यवस्थापक कृष्णपालसिंह चौहान व लेम्पस कार्मिक, पदाधिकारियों की भूमिका सवालों के घेरे में है। व्यवस्थापक को राशन वितरण का पर्यवेक्षण व निगरानी करनी थी। दो माह से लोगों को राशन नहीं मिला। लोगों ने रसद अधिकारी को शिकायत की, पर कार्यवाही के लिए कदम नहीं उठाया। ऐसे में संबंधित सभी लोगों को योजना का समय पर लाभ नहीं मिला।

नियुक्त डीलर के पहुंचने के बाद वितरण
उल्लेखनीय है कि पत्रिका में 'निलंबित ने शुरू कर दिया राशन वितरण, खडे हो गए कई सवालÓ शीर्षक से समाचार प्रकाशित किया। इस पर मंगलवार को बांकड़ा डीलर के पहुंचने के बाद वितरण प्रक्रिया शुरू की। वंचित उपभोक्ताओं को राशन वितरण दूसरे दिन शाम पांच बजे तक चला। सुबह नौ बजे से उपभोक्ता पहुंच गए थे।

निलंबित ने पांचवे दिन दी चाबियां
मैंने दुकान, गोदाम की चाबियां मांगी थी। मंगलवार दोपहर तक नहीं दी। मुझे मंगलवार शाम को चाबियां सौंपी गई। गोदाम में पहले स्टॉक का आंकड़ा अलग था। स्टॉक कैसे बढ़ा, इसकी मुझे इसकी जानकारी नहीं है। मैंने रसद विभाग को अवगत कराया है।
-मगनलाल लबाना, राशन डीलर, बांकड़ा

230 क्विंटल गेहूं की वसूली
पुनावाड़ा लेम्प्स मामले में २३० क्विंटल गेहूं की वसूली कर ली है। मैं स्वयं तीन दिन से मामले को देख रहा हूं। सरकार की योजना से वंचित हर उपभोक्ताओं को राशन दिलाया जाएगा। निलंबित की तरफ से चाबियां सौंप दी गई है। वसूली की कार्यवाही पूर्ण होने के बाद अग्रिम कार्यवाही की जाएगी। हर एक पहलू की जांच हो रही है।
-लालशंकर डामोर, प्रवर्तन निरीक्षक, रसद विभाग, डूंगरपुर

Vinay Sompura Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned