डूंगरपुर : एक बेड पर दो बीमार, ऐसे हैं जिला अस्पताल के हाल

Ashish vajpayee

Publish: Feb, 15 2018 11:36:04 (IST)

Dungarpur, Rajasthan, India
डूंगरपुर : एक बेड पर दो बीमार, ऐसे हैं जिला अस्पताल के हाल

मरीजों में संक्रमण का खतरा

डूंगरपुर. न मौसमी बीमारियों का समय। ना ही डेंगू, मलेरिया का संकट। इसके बावजूद जिला अस्पताल में एक बेड पर दो-दो मरीज भर्ती हो रहे हैं। स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर बनाने के भले लाख दावे किए जा रहे हंै, लेकिन मौजूदा हालात को सुधारने के प्रति हर स्तर पर लापरवाही बरती जा रही है। मंगलवार को हरिदेव जोशी सामान्य चिकित्सालय पहुंचने पर स्थिति सामने आई।

यहां भर्ती होने वाले मरीजों में संक्रमण का अधिक खतरा बना हुआ है। इसका खामियाजा स्वयं मरीज भुगत रहे हैं। स्थिति यह है कि मरीज ठीक से लेट भी नहीं पा रहे हैं। इसकी जानकारी अस्पताल प्रशासन व जनप्रतिनिधि को है, लेकिन बेड की संख्या बढ़ाने में रूचि नहीं ली जा रही है। मौसमी बीमारियोंं के दिनों में स्थिति और बिगड़ जाती है।

महिला वार्ड: 24 बेड, 40 भर्ती
सरकार महिला सशक्तिकरण के दावे कर रही है, लेकिन महिलाओं को सुविधा देने में हाथ पीछे खींच रही है। 24 बेड के महिला वार्ड में 40 से अधिक मरीज भर्ती हैं। अन्य दिनों मेंं यह संख्या 50 से ऊपर पहुंच जाती है।

एक मर्ज का इलाज, दूसरा फिर तैयार...
एक बेड पर दो-दो मरीजों के भर्ती होने से स्थिति बिगड़ रही है। मरीज बेड पर सही ढंग से आराम तक नहीं कर पाते। इससे मरीज एक मर्ज को ठीक कराने के लिए पहुंच रहा है, उसी के साथ कमर दर्द व अन्य बीमारी लेकर घर पहुुंच रहा है।

बैठकर चढ़वानी पड़ती है ड्रीप
महिला एवं पुरुष वार्ड भरे होने पर मरीजोंं को बिस्तर व जहां जगह मिले वहां बैठकर बोतल चढ़ानी पड़ती है। अस्पताल मेें आए दिन यह हालात देखने को मिल रहे हैं। ऐसे में इंजेक्शन की सुईयां व बोतल भी यहां वहां पड़ी रहती है।

यहां आ रहे सीएचसी के मरीज ..
मेडिकल कॉलेज बनने के बाद स्थिति में बदलाव हो जाएगा। सीएचसी, पीएचसी स्तर पर ठीक होने वाली बीमारी के मरीज जिला अस्पताल पहुंच रहे हैं, इससे यह स्थिति हो रही है। लंबी प्रक्रिया है। बदलाव में समय लगेगा।

डा. इन्द्रलाल पंचाल, पीएमओ, डूंगरपुर

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned