लॉकडाउन में गुजरात से चोरी छिपे मजदूरों को लाए, दो गिरफ्तार

गुजरात के मोडासा क्षेत्र से चोरी छिपे मजदूरों को लाकर उनके गांव के बाहर से छोडऩे में सक्रिय दो लोगों को कुआं पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने उनसे पिकअप वाहन भी जब्त किया है।

By: Vinay Sompura

Published: 18 Apr 2020, 08:32 PM IST

लॉकडाउन में गुजरात से चोरी छिपे मजदूरों को लाए, दो गिरफ्तार
- पिकअप जब्त
पुलिस को गुमराह करने बताया गलत पता
डूंगरपुर.
गुजरात के मोडासा क्षेत्र से चोरी छिपे मजदूरों को लाकर उनके गांव के बाहर से छोडऩे में सक्रिय दो लोगों को कुआं पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने उनसे पिकअप वाहन भी जब्त किया है।
कुआं थानाधिकारी मनीष कुमार ने बताया कि लॉकडाउन को बनाए रखने के लिए शनिवार को कस्बा कुंआ में कॉलोनी तिराहे पर नाकाबन्दी चल रही थी। दोपहर करीब 12.45 बजे पंचकुण्डी रोड की तरफ से एक गुजरात पासिंग पिकअप आती नजर आई, उसमें चालक सहित दो जने सवार थे। रूकवाकर पूछताछ करने पर चालक ने खुद को घांची मोहल्ला सीमलवाड़ा निवासी होना बताया तथा वहां से मोडासा पिकअप लेकर जाना और वहां से सालेडा निवासी छगन पुत्र गला मीणा सहित पांच मजदूरों को लाकर उनके गांव के बाहर से छोडऩा बताया। पुलिस ने तत्काल उसकी तस्दीक कराई तो सामने आया कि चालक सीमलवाड़ा का रहने वाला नहीं था तथा सीधे मोडासा से ही मजदूरों को चोरी छिपे लाना सामने आया।
कड़ी पूछताछ करने पर चालक ने अपना नाम जावेद पुत्र बाबू भाई मुल्तानी मुसलमान निवासी चांद टेकरी ,मोडासा तथा उसके साथ मौजूद व्यक्ति ने अपना नाम मुसा पुत्र नूर खां मुल्तानी मुसलमान निवासी चांद टेकरी, मोडासा होना बताया। लॉकडाउन और धारा 144 के प्रावधानों का उल्लंघन करने पर पुलिस ने पिकअप जब्त कर दोनों को गिरफ्तार कर लिया है।
एएसपी भी पहुंचे
घटना की सूचना मिलने पर एएसपी रामजीलाल चंदेल भी कुआं पहुंचे तथा पूरी जानकारी ली। वहीं चिकित्सा टीमों को भी इससे अवगत कराया।
ज्यादा किराया वसूल कर लाते हैं मजदूरों को
पुलिस ने दावा किया कि ये लोग मोडासा सहित आसपास के क्षेत्र में लॉकडाउन के कारण अटके राजस्थान के लोगों को अधिक किराया वसूल कर चोरी छिपे लाते हैं। पुलिस इस संबंध में विस्तृत पूछताछ कर रही है।

Vinay Sompura Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned