जो इस जंगल में गया, वो कभी वापस नहीं आया, जानें क्यों?

दुनिया अजब गजब
जो इस जंगल में गया, वो कभी वापस नहीं आया, जानें क्यों?

हम आपको बता रहे हैं जापान के एक ऐसे जंगल के बारे में जिसे दुनिया का सबसे डरावना जंगल कहा जाता है और आप यहां जाना बिलकुल भी पसंद नहीं करेंगे।

वैसे तो जंगल में घूमना किसे नहीं अच्छा लगता है। आपने दुनिया के कई जंगलों के बारे में सुना होगा, जंगल में हमें प्राकृतिक सौंदर्य देखने को मिलता है। शुद्ध हवा और शुद्ध भूमि हमे जंगल में ही मिलते हैं, शायद इसलिए लोग भीड़ वाले इलाके से कुछ दिनों के जंगल में घूमने आते हैं। लेकिन धरती पर कुछ जंगल ऐसे भी हैं जहाँ लोग जाने से डरते हैं।
Related image
हम आपको बता रहे हैं जापान के एक ऐसे जंगल के बारे में जिसे दुनिया का सबसे डरावना जंगल कहा जाता है और आप यहां जाना बिलकुल भी पसंद नहीं करेंगे। इस जंगल आप जाएंगे तो आपको हर जगह बस कंकाल ही नजर आएंगे। जानिए क्यों इस जंगल में हर जगह नजर आते हैं कंकाल।

suicide-forest_1480483899
इस जंगल में आपको मिलेगा जगह-जगह लटकी हुई लाशें, जमीन पर पड़े हुए जूते-चप्पल और घनघोर सन्नाटा। यह जंगल इतना डरावना है कि आपको सबसे हॉन्टेड फिल्म भी इसके आगे कम डरावनी लगेगी। इन सारे दर के रहस्य है लोगों की आत्महत्या, कई सालों से लोग यहां अपनी जान देने आ रहे हैं। कहा जाता है कि किसी भूतिया शक्ति के कारण जो लोग यहाँ आत्महत्या कर लेते हैं, उनकी आत्माएं भी यहीं भटकती रहतीं हैं और वो दूसरे लोगों को अपना निशाना बनाती हैं.

लगभग 16 वर्ग मील में फैले इस भयानक, घनघोर, डरावने और भूतिया जंगल में सूरज की एक किरण भी देखने को नहीं मिलती और चारों ओर से अजीब सी आवाज़ें सुनाई देती हैं। जापान का यह जंगल पूरी दुनिया में सुसाइड फॉरेस्ट या भूतिया जंगल के नाम से बदनाम है। कहा जाता है कि जिसने भी एक बार इस जंगल में कदम रख लिया वो कभी वापस नहीं लौटा।

suicide-forest_1480483790
यह जंगल जिसका नाम ओकिघारा फॉरेस्ट है, ये जापान के माउंट फूजी के पास है। यहां मरने वालों कि संख्या इतनी बढ़ चुकी है कि जापान की सरकार को जंगल के गेट पर एक सांकेतिक बोर्ड लगाना पड़ा। बोर्ड पर लिखा है कि जो लोग आत्महत्या करने के इरादे से यहां आए हैं वो अपनी जान लेने की बजाय किसी से मदद लें और यह कदम ना उठाएं।

1950 से लेकर अब तक यहां 500 से ज्यादा लोग अपनी जान दे चुके हैं। सिर्फ साल 2010 में ही 267 लोगों ने यहां आत्महत्या करने की कोशिश की थी, जिसमें से 54 लोगों की मौत हो गई थी।

अब इस जंगल में बहुत कम ही लोग जाते हैं और जो जाता है वो कभी वापस नहीं आता।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned