दुर्ग जिले में अब तक का सबसे सख्त लॉकडाउन शुरू, 11 दिनों तक कोई छूट नहीं, पहली बार राशन और शराब दुकानों को भी किया बंद

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के चलते दुर्ग-भिलाई सहित जिले के 6 नगरीय निकायों में रविवार यानी आज से 11 दिन के लिए फिर से लॉकडाउन रहेगा। इस दौरान जिला प्रशासन द्वारा पहले से भी ज्यादा सख्ती बरती जाएगी। (coronavirus lockdown in durg district)

By: Dakshi Sahu

Published: 20 Sep 2020, 10:54 AM IST

दुर्ग. कोरोना के बढ़ते संक्रमण के चलते दुर्ग-भिलाई सहित जिले के 6 नगरीय निकायों में रविवार यानी आज से 11 दिन के लिए फिर से लॉकडाउन रहेगा। इस दौरान जिला प्रशासन द्वारा पहले से भी ज्यादा सख्ती बरती जाएगी। इस बार बेवजह घूमने वालों के खिलाफ सीधी कार्रवाई की जाएगी, वहीं गाइडलाइन का उल्लंघन करने वाले दुकानदारों के खिलाफ तालाबंदी की कार्रवाई की जाएगी।

लॉकडाउन की तैयारियों को लेकर शनिवार को कलेक्टोरेट में बैठक हुई। कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे व एसपी प्रशांत ठाकुर ने अधिकारियों को कहा कि लॉकडाउन बेहद असरकारी होना चाहिए। बेवजह घूमने वाले लोगों पर कड़ी कार्रवाई की जाए, मास्क नहीं लगाने पर कार्रवाई करें। निगम और पुलिस की संयुक्त टीम यह देखें कि बाजार में गाइडलाइन का पालन हो रहा है या नहीं। ग्रामीण क्षेत्र का रूख करने वालों को रोकना भी जरूरी है। हाइवे को छोड़कर ग्रामीण इलाकों के लिए शहर से जो सड़कें जाती हैं उन पर बैरीकेडिंग होगी, बेवजह आवाजाही प्रतिबंधित होगी।

न चलेगी भीड़, न ही खुलेंगे होटल के शटर
कलेक्टर और एसपी ने कहा कि भिलाई के सिविक सेंटर जैसे महत्वपूर्ण स्थलों पर कई बार लोगों का जमावड़ा दिखता है। इस पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। होटल बंद रहेंगे। केवल होम डिलीवरी को इजाजत होगी। होटल के शटर नहीं खुलेंगे। दवा, मेडिकल, चश्मा दुकाने खुलेंगी लेकिन यहां भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन अनिवार्य होगा।

परीक्षार्थियों को मिलेगी प्रवेश पत्र से इजाजत
कलेक्टर ने कहा कि इस बीच परीक्षाएं भी चल रही हैं अतएव प्रवेश पत्र के आधार पर परीक्षार्थियों को सेंटर तक जाने की इजाजत दी जाएगी। स्पोट्र्स काम्पलेक्स, क्लब, जिम जैसी गतिविधि बंद रहेगी। कोरोना संक्रमण की गति को कम करने सबकी सहमति से लॉकडाउन का निर्णय लिया गया है। यह जितना प्रभावी होगा, कोरोना के संक्रमण की गति को रोकने में उतनी ही मदद मिलेगी।

कंटेनमेंट व क्वारंटाइन में छूट नहीं
लॉक डाउन के दौरान कंटेनमेंट जोन और क्वारंटाइन के नियमों का भी सख्ती से पालन किया जाएगा। इसमें किसी भी व्यक्ति को कोई भी छूट नहीं दी जाएगी। क्वारंटाइन के नियमों का उल्लंघन पर धारा 188 के तहत कानूनी कार्रवाई भी की जाएगी।

समय की शर्तों के साथ केवल इन्हें अनुमति
0 सब्जी, मटन, मछली फल - सुबह 5 से सुबह 10 बजे तक।
0 डेयरी केवल दूध व्यवसाय - सुबह 6 से 8 और शाम 5 से 7 बजे तक।
0 रेस्टोरेंट, होटल केवल होम डिलीवरी - सुबह 10 से रात 10 बज तक।
0 दवाई दुकान, मेडिकल, चश्मा दुकान - समय पर कोई भी पाबंदी नहीं।
0 डीजल, पेट्र्रोल, एलपीजी, सीएनजी - शाम 3 बजे तक।

इन्हें भी रहेगी अनुमति
0 घर घर जाकर दूध बांटने वाले - सुबह 6 से 9.30 बजे और शाम को 5 से 7 बजे तक।
0 पेपर वितरण करने वाले हॉकर्स - सुबह 6 से 9 बजे तक।

अनुमति वाले दुकानों के लिए यह अनिवार्य शर्त
0 दुकानों के सामने फ्लेक्स, जिसमें दुकान खुलने व बंद होने का समय अंकित हो।
0 बिक्री के लिए मास्क, बिना मास्क पहने आने वालों को पहले मास्क देना अनिवार्य होगा।
0 ग्राहकों के उपयोग के लिए सैनिटाइजर।

coronavirus Coronavirus Deaths
Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned