भोले भाले दिखने वाले युवक कर रहे थे ये गांजा तस्करी

भोले भाले दिखने वाले युवक कर रहे थे ये गांजा तस्करी
रीवा मध्यप्रदेश के 3 युवकों को सिटी कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार किया

Mukesh Deshmukh | Updated: 23 Jul 2019, 10:08:33 PM (IST) Durg, Durg, Chhattisgarh, India

नया बस स्टैंड के यात्री प्रतिक्षालय से गांजा तस्करी के आरोप में रीवा मध्यप्रदेश के 3 युवकों को सिटी कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। तीनों युवकों से कुल 31 किलो 200 ग्राम गांजा बरामद किया गया।


दुर्ग@patrika. नया बस स्टैंड के यात्री प्रतिक्षालय से गांजा तस्करी के आरोप में रीवा मध्यप्रदेश के 3 युवकों को सिटी कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। तीनों युवकों से कुल 31 किलो 200 ग्राम गांजा बरामद किया गया। गांजा की कीमत 1.21 लाख रुपए होना बताया गया है। मामले में पुलिस ने नवा रीवा निवासी अंखड पाण्डेय (21), राजीव मार्ग निराला नगर रीवा निवासी धिरेन्द्र सिंह उर्फ धीरू (23) और शिवपूर्वा थाना रायपुर रीवा निवासी शुंभम पाण्डेय (19) के खिलाफ नारकोटिक एक्ट के तहत प्रकरण पंजीबद्ध किया है। तीनों आरोपियों को विशेष न्यायाधीश हरीश कुमार अवस्थी की अदालत मेें पेश करने के बाद जेल दाखिल करा दिया गया।
टीआई सुरेश धु्रव ने बताया कि कार्रवाही मुखबिर की सूचना पर की गई है। उन्हें जानकारी मिली थी कि तीन युवक जगदलपुर दुर्ग बस से ऊतरे है और यात्री प्रतिक्षालय में घंटों से किसी का इंतजार कर रहे हैं। तीनों के हाथ में बैग है। जिसमें गांजा होना का अनुमान है। सूचना के आधार पर बस स्टैंड पहुंची 20 मिनट तक आसपास तलाशती रही। दरअसल युवकों को उम्र देखकर पुलिस भी अनुमान नहीं लगा पा रही थी। तीनों युवकों के हाथ में अलग लेदर का बैग देखने के बाद उन्हें थाना लाया गया। जांच के दौरान तीनों युवकों के पास से गांजा जब्त किया गया।


आरोपियों के बैग से मिला गांजा
पुलिस के मुताबिक अंखड पाण्डेय के पास बारमद बैग से तेरह किलो दो सौ ग्राम,
धिरेन्द्र सिंह उर्फ धीरू के पास आठ किलोग्राम और शुंभम पाण्डेय से दस किलोग्राम
गांजा जब्त किया गया।


डबल मुनाफा
पूछताछ में युवकों ने बताया कि वे गांजा लेने के बाद सीधे जगदलपुर पहुंचे। इसके बाद वे दुर्ग पहुंचे। यहां से बस से ही रीवा निकलने का प्लान था। युवकों का कहना है कि ओडि़सा में 20 हजार प्रतिकिलों के हिसाब से गांजा मिलता है। उसे वे 40 हजार प्रतिकिलों के हिसाब से बेचते थे।


दलाल का था इंतजार
युवकों ने खुलासा किया कि आधा गांजा को वे रीवा ले जाने वाले थे। वहीं आधा गांजा को उन्हें दुर्ग में छोडऩा था। दलाल उनसे गांजा ले जाता इसके पहले ही वे पुलिस के हत्थे चढ़ गए। आरोपी लंबे समय से इस गोरख धंधे में लिप्त है।
---------------

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned