दुर्ग जिले में कोरोना से 2 लोगों की मौत, 65 नए पॉजिटिव मिले, प्रदेश में तीन दिन में नए मरीजों की संख्या दो हजार के पार

Chhattisgarh coronavirus Update: दुर्ग जिले में सोमवार को कोरोना के 65 नए केस मिले हैं। वहीं 2 लोगों की संक्रमण से मौत हो गई।

By: Dakshi Sahu

Published: 17 Nov 2020, 01:52 PM IST

भिलाई. दुर्ग जिले में सोमवार को कोरोना के 65 नए केस मिले हैं। वहीं 2 लोगों की संक्रमण से मौत हो गई। इस तरह जिले में अब तक 495 कोरोना संक्रमित दम तोड़ चुके हैं। नवंबर के 16 दिनों में 23 संक्रमितों की जान गई है। कोविड-19 से हर दिन मौत हो रही है। संक्रमितों की संख्या में कमी आने के बाद भी मौत का सिलसिला थम नहीं रहा है। विशेषज्ञों ने भी अब जांच के लिए दिल्ली तकनीक पर काम करने की जरूरत बताई है। प्रदेश में बीते तीन दिनों में 2,356 कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। दिवाली के दिन 716, दूसरे दिन 530 और तीसरे दिन यानी सोमवार को 1110 लोगों में संक्रमण की पहचान हुई है। हालांकि इन दिन दिनों में करीब 28 हजार सैंपल की जांच ही हुई। त्योहार की वजह से भी कम लोग जांच केंद्र पहुंचे। उधर शनिवार को 17, रविवार को 16 और सोमवार को 17 कोरोना संक्रमित मरीजों की इलाज के दौरान मौत हुई।

अब 1500 के स्थान पर 400 से भी कम की जांच
जिले में कोविड-19 से निपटने स्वास्थ्य विभाग ने जांच की संख्या को धीरे-धीरे कर बढ़ाकर 1500 तक पहुंचा दिया था। तब संक्रमितों की संख्या 300 से भी अधिक आ रही थी। पिछले एक महीने में जांच की संख्या को कम करते-करते 400 के नीचे ला चुके हैं। इसका असर यह हो रहा है कि संक्रमितों की संख्या घटकर 40 के आसपास आ चुकी है। दिल्ली में जांच करने की संख्या कभी भी कम नहीं की गई है।

दिल्ली में केंद्र सरकार के निर्देश का पालन
दिल्ली में जांच के लिए केंद्र सरकार ने जो नियम बनाए हैं, उसका अक्षरश: पालन किया जा रहा है। वहां आरटीपीसीआर जांच अधिक की जा रही है, क्योंकि विशेषज्ञों ने कहा है कि आटीपीसीआर जांच करने से किसी भी व्यक्ति में अगर कोरोना के थोड़े भी वायरस हो तो उसे सर्च कर लेगा। दिल्ली में इस वजह से ही अधिक से अधिक केस को सर्च किया जा रहा है।

एक घर में क्यों मिल रहे अधिक संक्रमित
जिले में कई घर ऐसे हैं जहां एक व्यक्ति संक्रमित होने पर उसे होम आइसोलेशन में रख दिया जाता है लेकिन परिवार के अन्य सदस्य जांच कराने अस्पताल नहीं पहुंचते। खुर्सीपार शहरी स्वास्थ्य केंद्र में कोविड-19 जांच कर रही टीम संक्रमितों के घर फोन कर अन्य सदस्यों को जांच करने बुला रही है, लेकिन वे नहीं आ रहे हैं। इसी तरह से अस्पताल में सर्दी जुकाम होने की वजह से दिखाने आ रहे लोगों को कोविड-19 जांच कराने पर्ची में लिखने पर बिना जांच कराए चुपके से घर चले जा रहे हैं। इससे एक घर में मौजूद एक संक्रमित अन्य सदस्यों को भी संक्रमित कर रहा है।

coronavirus Coronavirus Deaths
Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned