रिटायर बुजुर्ग महिला दुर्ग में हुई उठाईगिरी की शिकार, बैंक से 25 हजार निकाली, घर पहुंची तो पर्स मिला गायब

पीडब्ल्यूडी से सेवानिवृत्त बुजुर्ग महिला उठाईगिरी की शिकार हो गई। वह दुर्ग में आकर बैंक ऑफ इंडिया से 25 हजार रुपए निकाली और घर चली गई।

By: Dakshi Sahu

Updated: 29 Jul 2021, 12:53 PM IST

भिलाई. ग्राम बोरगन की रहने वाली पीडब्ल्यूडी से सेवानिवृत्त बुजुर्ग महिला उठाईगिरी की शिकार हो गई। वह दुर्ग में आकर बैंक ऑफ इंडिया से 25 हजार रुपए निकाली और घर चली गई। घर में जब झोला को खोलकर देखा उसमें से रकम पार हो गई थी। दूसरे दिन दुर्ग कोतवाली थाना में शिकायत दर्ज कराई। चौंकाने वाली बात है दुर्ग बस स्टैंड से पूर्व में छत्तीसगढ़ हाउसिंग बोर्ड से सेनानिवृत्त राजनांदगांव निवासी बुजुर्ग 80 हजार रुपए उठाईगिरी का शिकार हो गया था। आज तक आरोपी को पुलिस नहीं गिरफ्तार कर सकी।

Read More: ट्रेडर्स संचालक से 18 लाख 60 हजार की ठगी, फोन पर 620 बोरी सीमेंट ऑर्डर लेकर भेजा, पेमेंट की बारी आई तो कर दिया मना ....

घर पहुंचकर देखा तो पैसा गायब मिला
दुर्ग कोतवाली थाना पुलिस ने बताया कि घटना मंगलवार करीब 2.30 बजे की है। बालोद जिले के ग्राम बोरगहन निवासी देवंती बाई (65 वर्ष) ने शिकायत किया है कि वह पीडब्ल्यूडी से सेवानिवृत्त है। बैंक ऑफ इंडिया में उसका खाता है। बस में सवार हो कर दुर्ग बैंक ऑफ इंडिया पहुंची। जहां से 25 हजार रुपए बैंक से निकाला। उस रकम को उसने एक झोला के अंदर पर्स में रखा। इसके बाद दुर्ग बस स्टैंड पहुंची। जहां बालोद वाली बस में सवार हुई। जब वह घर पहुंची तो झोला को चेक किया। पैसे वाला पर्स गायब था। उसने घर में और कुछ दूर रास्ते में खोजबीन की। इसके बाद दूसरे दिन दुर्ग पहुंची और कोतवाली थाना में शिकायत की।

दुर्ग पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे को चेक किया
बुजुर्ग महिला की शिकायत के बाद दुर्ग कोतवाली टीआई राजेश बागड़े ने टीम गठित की। महिला के बताए अनुसार रास्ते में गई और सीसीटीवी कैमरे को चेक किया। लेकिन एक भी कैमरे में महिला नजर नहीं आ रही है। फिलहाल मामले में पुलिस जांच कर रही है। हांलाकि पुलिस को महिला सही स्थान नहीं बता पा रही है। इसलिए अभी तक स्थिति स्पष्ट नहीं हुई है।

Dakshi Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned