लॉकडाउन में शराब खरीदने उमड़ी इतनी भीड़, हालात बिगड़ता देख पुलिस को भांजनी पड़ी लाठियां

रविवार को ग्राम जेवरा सिरसा के शराब दुकान में दारू प्रेमियों की इतनी भीड़ उमड़ी कि हालात काबू में करने पुलिस को लाठियां भांजनी पड़ी। (liquor shop in durg)

By: Dakshi Sahu

Published: 27 Jul 2020, 12:36 PM IST

दुर्ग. जिले में एक सप्ताह के टोटल लॉकडाउन के दौरान शहरों के शराब दुकानों को बंद कर दिया गया है। ऐसे में लोग चोरी छिपे गांवों के मयखानों की ओर रूख कर रहे हैं। रविवार को ग्राम जेवरा सिरसा के शराब दुकान में दारू प्रेमियों की इतनी भीड़ उमड़ी कि हालात काबू में करने पुलिस को लाठियां भांजनी पड़ी। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए अतिरिक्त बल भी बुलाना पड़ा। कोरोना संक्रमण में लोगों के मदिरा प्रेम को देखते हुए स्थानीय युवकों ने भी शराब दुकान को बंद करने के लिए मोर्चा खोल दिया। जिसके बाद लगभग दो घंटे तक पुलिस, मंदिरा प्रेमी और आंदोलन कर रहे युवाओं के बीच गहमा-गहमी बनी रही। (Coronavirus lockdown in chhattisgarh)

ग्राम जेवरा सिरसा के शराब दुकान के विरोध में रविवार को गांव के युवाओं ने हल्ला बोला। विरोध को देखते हुए प्रशासन को कुछ घंटों के लिए शराब दुकान बंद कराना पड़ा। युवाओं ने जल्द शराब दुकान पूरी तरह बंद नहीं करने पर आंदोलन का ऐलान किया। इस दौरान युवाओं ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। युवाओं का कहना था कि जेवरा सिरसा में संचालित शराब दुकान को बंद करने की मांग लंबे समय से की जा रही है।

लॉकडाउन में शराब खरीदने उमड़ी इतनी भीड़, हालात बिगड़ता देख पुलिस को भांजनी पड़ी लाठियां

पूर्व सरकार ने इस पर ध्यान नहीं दिया, लेकिन शराब बंदी के ऐलान के बाद भी मौजूदा सरकार भी ध्यान नहीं दे रही। गांव के युवाओं ने प्रशासन से कहा कि अगर शीघ्र उचित कार्यवाही नहीं हुई तो उग्र आंदोलन के लिए बाध्य होंगे। प्रदर्शन में वेदकुमार साहू , सागर चौबे, दिव्या देव साहू, कुलदीप यादव, शुभम साहू, लोकेश यादव, संजय साहू, भेष निषाद शामिल थे।

coronavirus
Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned