कोरोना की दूसरी लहर की चपेट में CM का गृह जिला दुर्ग, 24 घंटे में 18 की मौत, मरच्यूरी में शव रखने की जगह नहीं

दुर्ग जिले में कोरोना मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। कोरोना की दूसरी लहर के बीच बुधवार को जिले में 1664 नए पॉजिटिव मिले हैं। वहीं आठ लोगों की उपचार के दौरान संक्रमण से मौत हो गई। (covid-19)

By: Dakshi Sahu

Published: 08 Apr 2021, 11:10 AM IST

भिलाई. दुर्ग जिले में कोरोना मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। कोरोना की दूसरी लहर के बीच बुधवार को जिले में 1664 नए पॉजिटिव मिले हैं। वहीं आठ लोगों की उपचार के दौरान संक्रमण से मौत हो गई। मृतकों में भिलाई इस्पात संयंत्र के चार कर्मी भी शामिल है। सख्त लॉकडाउन के दूसरे दिन जिले में जांच की संख्या बढ़ाकर जिला प्रशासन ने 4128 किया है। जांच में इजाफा होने के साथ-साथ संक्रमितों की संख्या भी बढ़ती जा रही है। जिले के अलग-अलग मुक्तिधाम में बुधवार को करीब 35 कोरोना संक्रमितों के शवों का अंतिम संस्कार किया गया। कोविड संक्रमितों की मौत के साथ ही दुर्ग जिले के सभी मरच्यूरी में लाशों का अंबार लग गया है। मरच्यूरी में शव रखने की जगह नहीं है।

कोरोना संक्रमण से सुबह बेटे की मौत, शाम को मिला पिता का शव
दुर्ग के शक्तिनगर वार्ड-11 निवासी गुप्ता परिवार में कोरोना संक्रमण से सुबह बेटे की मौत हो गई। बेटे का शव लेने परिजन जिला अस्पताल में इंतजार कर रहे थे। उसी समय पुलिस एक लावारिस लाश लेकर मरच्यूरी पहुंची। वहां खड़े लोगों लावारिश शव की पहचान शिवप्रसाद गुप्ता (65) के रूप में की। वे सब जिस युवक का शव लेने आए थे शिवप्रसाद उसी के पिता थे। दुर्ग कोतवाली थाना पुलिस ने बताया कि बुधवार को शाम 5 बजे फरिश्ता कॉम्प्लेक्श जींस कार्नर के पास एक लावारिस लाश मिली। मर्ग कायम कर लाश को जिला अस्पताल की मरच्यूरी ले गए। वहां लोगों ने उसकी पहचान की।

6 को बेटे को किया गया था भर्ती
शिव प्रसाद के बेटे की कोविड-19 टेस्ट कराया गया। रिपोर्ट पॉजीटिव आई। मंगलवार को उसे जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया गया। बुधवार सुबह उसकी मौत की खबर मिली। इधर पुलिस का कहना है कि शिव प्रसाद के शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा। रिपोर्ट के बाद मौत का कारण स्पष्ट होगा। इसके बाद आगे की जांच की जाएगी। एक घर में बाप-बेटे की मौत के बाद परिवार में सदमे में है।

अग्रवाल समाज का कोविड केअर सेंटर आरंभ
कोविड मरीजों को राहत देने सामाजिक संगठन बढ़ चढ़कर सामने आ रहे हैं। सकल जैन समाज के बाद बुधवार को अग्रवाल समाज ने भिलाई सेक्टर-6 में कोविड केयर सेंटर आरंभ किया। इसमें 21 बेड हंै जिसमें ऑक्सीजन बेड की सुविधा भी उपलब्ध कराई गई है। साथ ही चिकित्सक और मेडिकल स्टाफ भी उपलब्ध है। इसका शुभारंभ आईजी विवेकानंद सिन्हा एवं कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भूरे ने किया। इस मौके पर आईजी ने कहा कि सेंटर के आरम्भ होने से कोविड मरीजों को काफी लाभ मिलेगा। समाज का यह कार्य प्रशंसनीय है। कलेक्टर ने कहा कि अभी यहां पर 21 बिस्तर में आक्सीजन की सुविधा उपलब्ध है इसे और भी विस्तारित करें ताकि अधिकाधिक लोगों को इसका लाभ हो। समाज के पदाधिकारियों ने बताया कि इसे 75 बिस्तर तक ले जाने की योजना है। समाज के इस कार्य का लाभ सभी वर्गों के लोगों को होगा। कलेक्टर ने यहां उपलब्ध सुविधाओं का भी निरीक्षण किया तथा समाज के पदाधिकारियों की सेवा भाव को लेकर प्रशंसा की।

Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned