पहले नशे में पुलिस को पीटा, फिर हिरासत में जवानों ने की ऐसी धुलाई कोर्ट में जज को दिखाए युवकों ने रो-रोकर निशान

पहले नशे में पुलिस को पीटा, फिर हिरासत में जवानों ने की ऐसी धुलाई कोर्ट में जज को दिखाए युवकों ने रो-रोकर निशान

Dakshi Sahu | Updated: 04 Jun 2019, 12:03:59 PM (IST) Durg, Durg, Chhattisgarh, India

पुलिस अभिरक्षा में युवकों की बेत से पिटाई करने की मेडिकल रिपोर्ट में पुष्टि होने के बाद न्यायालय ने जांच का आदेश दिया है।

दुर्ग. पुलिस अभिरक्षा में युवकों की बेत से पिटाई करने की मेडिकल रिपोर्ट में पुष्टि होने के बाद न्यायालय ने जांच का आदेश दिया है। इस मामले में स्मृति नगर पुलिस चौकी के खिलाफ जांच के लिए न्यायाधीश गिरीश कुमार मंडावी ने सोमवार को एसपी को पत्र लिखा है। पुलिस कर्मचारियों से मारपीट के मामले में आरोपी रोशन कुमार, राकेश मिश्रा,अखिलेश स्थापक, शुभम चौधरी व सिद्धांत बघेल को पुलिस अभिरक्षा में रविवार को न्यायालय में पेश किया गया था।

आरोपियों को पेश करने के पहले पुलिस ने सभी का स्वास्थ्य परीक्षण कराया था। पुलिस ने केस डायरी के साथ मेडिकल प्रस्तुत किया। जिसमें आरोपी युवकों के शरीर में किसी तरह का चोट होने का उल्लेख नहीं था। पुलिस का कहना है कि आरोपी युवक शनिवार-रविवार दरम्यानी रात जन्मदिन की पार्टी मना रहे थे। देर रात हुल्लड़ करने और शोर शराबा करने की शिकायत पर स्मृति नगर पुलिस घटना स्थल पहुंची थी। युवक पुलिस •ॢमयों से मारपीट करने लगे। स्थिति नहीं संभलने पर सुपेला थाना से बल बुलाया गया।

युवकों ने की मारपीट की शिकायत
न्यायालय में पेश आरोपी युवकों ने पुलिस अभिरक्षा में मारपीट की शिकायत की। शरीर पर उभरे निशान को दिखाया था। न्यायालय ने आरोपियों को जेल भेजने का आदेश देने के साथ ही सभी का दोबारा स्वास्थ्य परीक्षण कराने का भी आदेश दिया। न्यायालय के आदेश के पर रविवार को आरोपियों का जिला अस्पताल में दोबारा स्वास्थ्य परीक्षण कराया गया। उसके बाद सभी जेल भेज दिया गया।

आरोप, चौकी ले जाकर मारपीट की, फिर कोर्ट में पेश किया
इस मामले में आरोपी युवकों ने जानकारी दी थी कि पुलिस ने पहले उनका मेडिकल कराया। इसके बाद न्यायालय में पेश करने के बजाय वापस चौकी ले गई। बचाव पक्ष के अधिवक्ता रविशंकर सिंह चौकी में पहले युवकों की जमकर पिटाई की गई फिर वहां से न्यायालय में पेश किया गया।

पिटाई के पहले मेडिकल करवा लिया गया था इसलिए आरोपियों के शरीर पर किसी तरह के चोट के निशान नहीं मिले थे। युवकों से मारपीट की शिकायत आरोपी युवकों की ओर से मैंने थाना में भी की थी। दोबारा हुए मेडिकल में शिकायत सही पाई गई।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned