धान खरीदी के लिए नहीं दिया बारदाना, दुर्ग जिला प्रशासन ने छह राशन दुकानों को किया निलंबित

राज्य शासन के निर्देश के बाद भी धान खरीदी के लिए बारदाना उपलब्ध नहीं कराना जिले के छह राशन दुकान संचालकों को महंगा पड़ गया। जिला प्रशासन ने सभी छह राशन दुकानों को निलंबित कर दिया है।

By: Dakshi Sahu

Published: 28 Nov 2020, 02:20 PM IST

दुर्ग. राज्य शासन के निर्देश के बाद भी धान खरीदी के लिए बारदाना उपलब्ध नहीं कराना जिले के छह राशन दुकान संचालकों को महंगा पड़ गया। जिला प्रशासन ने सभी छह राशन दुकानों को निलंबित कर दिया है। निलंबन अवधि में राशन दुकान से संबंधित हितग्राहियों को नजदीकी समितियों में अटैच किया गया है। जिला प्रशासन से मिली जानकारी के मुताबिक बारदाना उपलब्ध नहीं कराने वाले सभी राशन दुकानों के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई की जाएगी।

मिली थी शिकायत
बता दे कि कोरोना संकट में मील बंद होने के कारण इस बार धान खरीदी के लिए राज्य शासन को केंद्र से पर्याप्त बारदाना उपलब्ध नहीं हो पाया है। ऐसे में धान खरीदी में पीडीएस के बारदानों का भी उपयोग का निर्णय किया गया है। इसके तहत करीब महीनेभर पहले से ही राशन दुकान संचालकों को बारदाना अन्यत्र उपयोग नहीं करने का निर्देश दे दिया गया था। इसके बाद भी कई दुकान संचालकों द्वारा बारदाना उपलब्ध नहीं कराने की शिकायत सामने आ रही है।

जारी रहेगी कार्रवाई
जिला प्रशासन द्वारा ऐसे दुकानों की जांच की जा रही है। इस क्रम में धमधा के ग्राम पंचायत बसनी, ग्राम पंचायत परसदा और जय महिला स्व-सहायता समूह नंदिनी खुंदनी द्वारा संचालित दुकानों की जांच की गई। यहां पर्याप्त बारदाना नहीं पाया गया। इस पर तीनों दुकानों को निलंबित कर दिया गया है। इसी तरह दुर्ग के मांग अंबे दीदी बैंक गनियारी, मां प्राथमिक सहकारी उपभोक्ता भंडार छावनी और जय हनुमान प्राथमिक सहकारी उपभोक्ता भंडार केम्प -1 में भी बारदाना नहीं पाया गया। इस पर इन तीनों दुकानों को भी निलंबित कर दिया गया है। सहायक खाद्य अधिकारी आनंद मिश्रा ने बताया कि बारदाना उपलब्ध नहीं कराने वाले दुकान संचालकों के खिलाफ कार्रवाई निरंतर जारी रहेगी।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned