जिले के नौ रत्न स्वच्छ भारत के ब्रांड एंबेसडर, देंगे सफाई का संदेश

अपनी प्रतिभा और बेमिसाल कार्यों के चलते समाज का आदर्श बन चुके नौ विशिष्ट व्यक्ति (नौ रत्न) अब स्वच्छ भारत अभियान के ब्रांड एंबेसडर होंगे। यह सफाई का संदेश देकर समाज को प्रेरित करेंगे।

By: आशीष गुप्ता

Published: 07 Jun 2015, 05:38 PM IST

दुर्ग/भिलाई. अपनी प्रतिभा और बेमिसाल कार्यों के चलते समाज का आदर्श बन चुके नौ विशिष्ट व्यक्ति (नौ रत्न) अब स्वच्छ भारत अभियान के ब्रांड एंबेसडर होंगे। जिला प्रशासन ने इनको नौ रत्न के तौर पर चयनित किया है। यह सफाई का संदेश देकर समाज को प्रेरित करेंगे। प्रधानमंत्री की पहल पर राष्ट्रव्यापी स्वच्छ भारत अभियान में जिले की सक्रिय भागीदारी के लिए यह पहल की है।

जिला स्तर पर अभियान के तहत स्वच्छता के साथ खुले में शौच से मुक्ति का भी लक्ष्य रखा गया है। अभियान की सफलता के लिए शासकीय स्तर पर कामकाज के अलावा जनसामान्य के जुड़ाव पर जोर दिया जा रहा है। समाज को प्रेरित करने के लिए विशिष्ट व्यक्तियों को अभियान से जोड़ा जाना था। इसी के तहत कला, साहित्य, खेल, संस्कृति, स्वास्थ्य, आध्यात्म व समाज सेवा से जुड़े इन नौ-रत्नों का चयन किया गया है।

जिले की विभूतियों से बड़ी उम्मीद
जिले के नौ-रत्नों में दो व्यक्ति पद्मश्री से अलंकृत हो चुके हैं। इनके अलावा अंतरराष्ट्रीय व राष्ट्रीय स्तर के दो खिलाड़ी, मानस सम्मेलन के माध्यम में आध्यामिक जागरण में लगे दो लोगों को शामिल किया गया है। शेष की अपने-अपने क्षेत्रों में विशिष्ट पहचान है। जिला प्रशासन का मानना है इनके प्रेरणा से आम लोगों में बेहद सकारात्मक संदेश जाएगा।

ये हैं हमारे नौ-रत्न
राजेश चौहान-अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खिलाड़ी
संजय मिश्रा-राष्ट्रीय बैडमिंटन खिलाड़ी व कोच
जेएम नेलसन-मूर्तिकार, पद्मश्री पुरस्कार से अलंकृत
सुरेन्द्र दुबे-कवि व साहित्यकार, पद्मश्री पुरस्कार से अलंकृत
त्रेता चंद्राकर-मानस के व्याख्याकार व प्रखर वक्ता
डॉ. विनय पाटणकर-चिकित्सक व सामाजिक कार्यकर्ता
चेतन देवांगन-प्रख्यात पंडवानी गायक व मानस प्रवचनकार
भीमसेन सेतपाल-समाजसेवी
शानू मोहनन - समाजसेवी
Show More
आशीष गुप्ता
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned