ससुर को सैन्य महाविद्यालय और दामाद को पेट्रोल पंप खोलने का सपना दिखाकर एक करोड़ की ठगी

खुद को वकील बताकर ससुर और दामाद को एक करोड़ का चूना लगाने वाले ठग को मोहननगर पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

By: Dakshi Sahu

Published: 22 Aug 2017, 10:34 AM IST

दुर्ग. खुद को वकील बताकर ससुर और दामाद को एक करोड़ का चूना लगाने वाले ठग को मोहननगर पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने धोखाधड़ी और फर्जी दस्तावेज बनाने का आरोपी बनाया है। पुलिस ने उसे पूछताछ के लिए एक दिन की रिमांड पर लिया है। बनियापारा निवासी रोहित ताम्रकार (२७ वर्ष) के खिलाफ शुक्रवार को समता कॉलोनी रायपुर निवासी सदाशिव प्रसाद हथमल (81) वर्ष ने मोहननगर थाने में शिकायत की थी।

बुजुर्ग ने बताया कि उसकी तितुरडीह स्थित 2400 वर्ग फीट जमीन पर किसी ने कब्जा कर लिया है। रोहित उससे वकील बनकर मिला औैर उसने न्यायालय से निराकरण कर जमीन वापस दिलाने का भरोसा दिलाया। उसके ऊपर विश्वास करके पीडि़त ने अपनी जमीन की पॉवर ऑफ अटॉर्नी और मूल दस्तावेज दे दिए।

भरोसा करके फंसे, जमीन भी बिक गई
इसके साथ ही ढाई लाख रुपए नगद भी दिए। इस बीच आरोपी ने उनसे कहा कि वे अपनी संपत्ति को समाजसेवा में लगाएं। इसके लिए सैन्य महाविद्यालय खोलने को कहा। इसकी अनुमति दिलाने के नाम पर आरोपी ने ३४.३९ लाख रुपए ले लिए।


पुलिस का मानना है कि आरोपी रोहित लंबे समय से धोखाधड़ी में लिप्त है। बुजुर्ग सदाशिव के दामाद राधेश्याम भी आरोपी की बातों में आ गए। आरोपी ने उन्हें गैस एजेंसी और रिसाली में पेट्रोल पंप खोलने की अनुमति दिलाने का झांसा दिया। उसकी बातों में फंसकर राधेश्याम ने अपनी जमीन 64 लाख रुपए में बेच दी।

सरकार और सीएम के नाम पर बनाए दस्तावेज
ससुर और दामाद को ठगी का शिकार बनाते समय उनको भरोसे में रखने के लिए आरोपी फर्जी दस्तावेज तैयार करके देता रहा। एक साल में भी कोई काम शुरू हो पाने पर उन्होंने दस्तावेज की जांच शुरू की तो मालूम चला कि बैंक जमा पर्ची, छत्तीसगढ़ शासन और मुख्यमंत्री का आदेश पत्र से लेकर भारत सरकार और आयकर विभाग तक के आदेश फर्जी तैयार किए गए थे।

पूछताछ के दौरान आरोपी ने खुलासा किया वह २५ लाख उसने अपने लखनऊ निवासी मित्र को दिए हैं। दस लाख रुपए से कार खरीदी। इसके अलावा 4 लाख के सोने के गहने और करीब 20 लाख अलग-अलग लोगों के खाता में जमा किए हैं। उसने करीब 20 लाख मुंबई, दिल्ली, गोवा और जम्मू घूमने में खर्च किए हैं।

Show More
Dakshi Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned