लॉक डाउन के बीच सब्जी मार्केट में लगी भीड़, संक्रमण से बचाने निगम ने इन बाजारों को किया खाली मैदान में शिफ्ट

इंदिरा मार्केट और हटरी बाजार शुक्रवार यानि आज से से पूरी तरह बंद कर दिया गया है। सब्जियों की खरीदी बिक्री करने वालों की ज्यादा भीड़ को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है। (Durg Municipal corporation)

By: Dakshi Sahu

Published: 27 Mar 2020, 01:44 PM IST

दुर्ग. इंदिरा मार्केट और हटरी बाजार शुक्रवार यानि आज से से पूरी तरह बंद कर दिया गया है। सब्जियों की खरीदी बिक्री करने वालों की ज्यादा भीड़ को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है। इसकी जगह पर नवीन स्कूल मैदान में सब्जी बाजार लगाई गई है। यहां निगम प्रशासन द्वारा विक्रेताओं को 3-3 मीटर की दूरी पर जगह दिया गया है। खरीदारों के लिए 1-1 मीटर की दूरी पर मार्किंग की गई है। खरीदी-बिक्री के दौरान अनावश्यक भीड़ न हो इसकी भी निगरानी की जा रही है। दुर्ग के अलावा भिलाई के सुपेला सब्जी मंडी को संजय नगर तालाब के पास खाली मैदान में शिफ्ट किया गया है। यहां आज सब्जी व्यापारियों ने मार्किंग के बाद अपनी दुकानें लगाई। (Coronavirus in chhattisgarh)

कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे और बार-बार चेतावनियों के बाद भी इंदिरा मार्केट और हटरी बाजार में खरीदी-बिक्री करने वालों की जुट रही भीड़ को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है। बुधवार को बाजार के समय में कटौती के कारण बड़ी संख्या में भीड़ जुटी। इसके बाद यह व्यवस्था बदलने का निर्णय लिया गया। महापौर धीरज बाकलीवाल और एसडीएम खेमलाल वर्मा ने निगम कमिश्नर इंद्रजीत बर्मन के साथ मौका मुआयना किया और अधिकारियों को इस संबंध में निर्देश दिए। निगम के अधिकारियों के मुताबिक यहां करीब 300 स्थल आवंटित किए जाएंगे।

समृद्धि बाजार भी शिफ्ट होगा
निगम प्रशासन द्वारा समृद्धि बाजार सब्जी मार्केट को भी सिविल लाइन स्थित खाली मैदान में शिफ्ट करने की तैयारी की जा रही है। अफसरों ने बताया कि शुक्रवार को खाली स्थल पर मार्किंग कर दुकानदारों को आवंटित कर दिया गया है। इसके बाद कोई भी मुख्य बाजार में दुकान नहीं लगा पाएगा। ऐसा किए जाने पर संबंधितों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

china Coronavirus coronavirus
Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned