रेलवे स्टेशन में अब छत्तीसगढ़ी भाषा में भी मिलेगी सूचना

हिंदी की तरह सूचनाओं को छत्तीसगढ़ी में भी प्रदर्शन करने का सुझाव दिया। उन्होंने फुट ओवरब्रिज की सीढियों पर छत्तीसगढ़ी में लिखे स्लोगन की प्रशंसा की।

By: Naresh Verma

Published: 24 Jul 2018, 01:08 AM IST

दुर्ग . रेलवे स्टेशन में हिंदी के साथ छत्तीसगढ़ी भाषा के उपयोग को लेकर दुर्ग रेलवे स्टेशन के सभाकक्ष में छत्तीसगढ़ राजभाषा आयोग के अध्यक्ष डॉ. विनय पाठक ने रेलवे के अधिकारियों से चर्चा की। उन्होंने हिंदी की तरह सूचनाओं को छत्तीसगढ़ी में भी प्रदर्शन करने का सुझाव दिया। उन्होंने फुट ओवरब्रिज की सीढियों पर छत्तीसगढ़ी में लिखे स्लोगन की प्रशंसा की। सुझाव दिया कि जिस तरह से गाडिय़ों के आने जाने की जानकारी छत्तीसगढ़ी में दी जा रही है उसी तरह रेलवे के हर जानकारी को हिन्दी के नीचे छत्तीसगढ़ी में लिखे जाए। उन्होंने स्टेशन का निरीक्षण कर अधिकारियों की बैठक ली। बैठक की अध्यक्षता मुख्य स्टेशन प्रबंधक मोहिनुद्दीन खान ने की। बैठक में वरिष्ठ राजभाषा अधिकारी विक्रम सिंह, विशेष रुप से आमंत्रित साहित्यकार डॉ. संतराम देशमुख, रायपुर मंडल के राजभाषा अधिकारी डॉ. संजीव कुमार मिश्र व रेलवे के अधिकारी उपस्थित थे।

त्रिभाषा का प्रयोग

मुख्य स्टेशन प्रबंधक मोहिनुद्दीन ने जानकारी दी कि गृह मंत्रालय के निर्देशों के अनुसार कार्य किया जा रहा है। आयोग के मार्गदर्शन के अनुसार त्रिभाषा सूत्र का प्रयोग किया जा रहा है। आने वाले समय में दुर्ग स्टेशन हिन्दी, छत्तीसगढ़ी के साथ अंग्रेजी में दिशा निर्देश एक साथ प्रकाशित किया जाएगा।

कविता पोस्टर का लोकार्पण

इस मौके पर डॉ. पाठक राजभाषा त्रैमासिक गोष्ठी में हिस्सा लेते हुए रायपुर रेलवे स्टेशन प्रबंधक बीवीटी राव द्वारा हिन्दी में लिखित कविता हमारा लक्ष्य का लोकार्पण किया। इस कविता का छत्तीसगढ़ी में अनुवाद राजभाषा प्रशिक्षक राघवेन्द्र दुबे ने किया है। दोनों भाषा में कविता को रेलवे ने एक ही फ्लैक्स में प्रकाशित कराया है।

Naresh Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned