scriptDurg's Nivedita was selected in the Indian Air Force | देश का मान बढ़ाएगी बेटी, हजारों लड़कों के बीच कैंप में सलेक्ट होकर 21 साल की निवेदिता बनी एयर फोर्स में फ्लाइंग ऑफिसर | Patrika News

देश का मान बढ़ाएगी बेटी, हजारों लड़कों के बीच कैंप में सलेक्ट होकर 21 साल की निवेदिता बनी एयर फोर्स में फ्लाइंग ऑफिसर

दुर्ग के खंडेलवाल कॉलोनी निवासी निवेदिता का चयन एयरफोर्स कॉमन एडमिशन टेस्ट के जरिए फ्लाइंग ऑफिसर( अकाउंट) के लिए हुआ है।

दुर्ग

Published: January 11, 2022 12:01:08 pm

भिलाई. दुर्ग के खंडेलवाल कॉलोनी निवासी निवेदिता का चयन एयरफोर्स (Indian Air Force) कॉमन एडमिशन टेस्ट के जरिए फ्लाइंग ऑफिसर( अकाउंट) के लिए हुआ है। मात्र 21 साल की निवेदिता ने तीसरे प्रयास में यह सफलता हासिल की। पहले रिटर्न एग्जाम और उसके बाद वाराणसी में हुए पांच दिन के एसएसबी के इंटरव्यू को पास कर वह अपने सपनों को साकार कर चुकी है। वह 15 जनवरी को हैदराबाद स्थित एयरफोर्स एकेडमी में ट्रेनिंग के लिए चली जाएंगी। निवेदिता ने शासकीय गल्र्स कॉलेज से बीकॉम किया था और उससे पहले 12 वीं उसने पीसीएम से की थी।
देश का मान बढ़ाएगी बेटी, हजारों लड़कों के बीच कैंप में सलेक्ट होकर 21 साल की निवेदिता बनी एयर फोर्स में फ्लाइंग ऑफिसर
देश का मान बढ़ाएगी बेटी, हजारों लड़कों के बीच कैंप में सलेक्ट होकर 21 साल की निवेदिता बनी एयर फोर्स में फ्लाइंग ऑफिसर
एनसीसी (NCC) से मिला कॉन्फिडेंस
निवेदिता ने बताया कि एनसीसी एयरविंग ज्वाइन करने के बाद उसमें गजब का कॉन्फिडेंस आया। वह बताती है कि दुर्ग जिले में एयरविंग की बटालियन नहीं थी। इसलिए वह सुबह 4.30 बजे की लोकल से रायपुर के दुर्गा कॉलेज जाती और दिनभर एनसीसी की क्लास अटैंड कर वापस 2 बजे घर लौटती थी। इसी बीच आर्ट ऑफ लिविंग से जुड़कर उसने खुद को अपने लक्ष्य के प्रति समर्पित कर दिया।
परिवार की पहली बेटी
पिता अशोक शर्मा बताते हैं कि उनकी दो बेटियां हैं। दोनों बेटियां देशसेवा में जाना चाहती हैं। बड़ी बेटी निवेदिता एयरफोर्स ज्वाइन करने वाली है और छोटी बेटी अभी 11वीं में है और एनडीए की तैयारी में जुटी हुई हंै।
इकलौती थी जिसे कैंप में मिली थी जगह
निवेदिता बताती है कि एनसीसी एयरविंग के दो कैंप में उसका चयन हुआ। पहला आगरा और दूसरा दिल्ली में था। इसमें शामिल होने वाली वह इकलौती थी जिसका चयन छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश डायरेक्टेड से हुआ था। इस कैंप में एयरफोर्स के ऑफिसर्स से जो गाइडलाइन मिली उसके बाद उसके अपने लक्ष्य को पाने का रास्ता और साफ नजर आया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022: परम विशिष्ट सेवा मेडल के बाद नीरज चोपड़ा को पद्मश्री, देवेंद्र झाझरिया को पद्म भूषणRepublic Day 2022: 939 वीरों को मिलेंगे गैलेंट्री अवॉर्ड, सबसे ज्यादा मेडल जम्मू-कश्मीर पुलिस कोस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयमुख्यमंत्री नितीश कुमार ने छोड़ा BJP का साथ, UP चुनावों में घोषित कर दिये 20 प्रत्याशीAloe Vera Juice: खाली पेट एलोवेरा जूस पीने से मिलते हैं गजब के फायदेगणतंत्र दिवस और स्वतंत्रता दिवस पर झंडा फहराने में क्या है अंतर, जानिए इसके बारे मेंRepublic Day 2022: गणतंत्र दिवस परेड में हरियाणा की झांकी का हिस्सा रहेंगे, स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.