सुसाइड या मर्डर: रस्सी कूदने छत पर गई छात्रा की मिली लाश

सुसाइड या मर्डर: रस्सी कूदने छत पर गई छात्रा की मिली लाश

9वीं की छात्रा नंदनी कौशिक की लाश घर की छत पर संदिग्ध हालत में जली हुई मिली। नंदनी के मामा भूपेन्द ने बताया कि रात करीब 12 बजे तक वह अपनी नानी सुरुज बाई के साथ लोककला महोत्सव देखने स्कूल गई थी।

भिलाई . न्यू खुर्सीपार के लोधी पारा में रहने वाली 9वीं की छात्रा नंदनी कौशिक की लाश घर की छत पर संदिग्ध हालत में जली हुई मिली। नंदनी के मामा भूपेन्द ने बताया कि रात करीब 12 बजे तक वह अपनी नानी सुरुज बाई के साथ लोककला महोत्सव देखने पं. जवाहर लाल नेहरू स्कूल गई थी। वह इस स्कूल की ही छात्रा थी। वहां से लौटी और नानी के साथ सोने चली गई।

पुलिस पहुंची तो जली हुई मिली लाश
सुबह वह रस्सी कूदने छत पर जाती थी। नानी ने सुबह 6 बजे छत पर जाकर देखा तो बाहर से चिटकनी लगी थी और दरवाजा के गेप से देखा तो वह जली पड़ी हुई थी। नानी ने भागते हुए इसकी सूचना नाना को दी। फिर खुर्सीपार पुलिस को खबर की। पुलिस पड़ोसी  के छत से होते हुए मौके पर पहुंची। वहां देखा तो छात्रा की पूरी तरह से जली हुई लाश पड़ी थी।

नानी के यहां रहती थी
मां ने बताया कि 2 दिसंबर को उसकी बात बेटी के साथ हुई थी। बेटी ने फोन पर कहा था कि मां भाई के जन्मदिन में केक लाए थे। वैसा ही केक मैं भी आऊंगी तो मंगवाना। मां ने कहा हां बेटी, जरूर केक खाना। इसके बाद वह फोन रख दी। वह कभी भी किसी परेशानी या किसी के द्वारा परेशान किया जा रहा, यह बात नहीं कही थी। वहीं नानी का रो-रो कर बुरा हाल था।  छात्रा नंदनी के माता, पिता चारभाठा, कवर्धा में रहते हैं। सूचना मिली तो दोनों खुर्सीपार पहुंचे। घरवालों ने बताया कि नंदिनी ने खुद पर मिट्टी तेल डालकर आग लगा ली। यह सुनकर वह रोते-रोते बेसुध हो गई।

संदिग्ध इसलिए
छात्रा छत मिट्टी तेल डालकर आग लगाने के बाद बचाव के लिए छत पर इधर-उधर भागी क्यों नहीं?  मिट्टी तेल डालकर आग लगाने वालों को अक्सर आग लगा लेने के बाद बचने के लिए भागते हुए देखा गया है।  जिस स्थान पर मिट्टी तेल का केन व माचिस दोनों था, उसके समीप ही लाश पड़ी थी। मोहल्ले के लोग आशंका व्यक्त कर रहे हैं कि किसी ने छात्रा की हत्या तो नहीं कर दी, और बचने के इरादे से बाद में उसे आग के हवाले कर दिया हो। छत की ओर से चिटकिनी लगाकर मामले को आत्महत्या बताने की कोशिश की गई हो।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned