कोरोनाकाल में दफ्तर छोड़ सड़क पर निकले सरकारी अधिकारी-कर्मचारी, 11 और 29 दिसंबर को किया आंदोलन का ऐलान

महंगाई भत्ता, एरियर्स सहित अन्य मांगें पूरी नहीं होने से नाराज सरकारी अधिकारी कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए काम छोड़कर सड़क पर उतरकर धरना प्रदर्शन किया।

By: Dakshi Sahu

Updated: 02 Dec 2020, 01:36 PM IST

दुर्ग. महंगाई भत्ता, एरियर्स सहित अन्य मांगें पूरी नहीं होने से नाराज सरकारी अधिकारी कर्मचारियों ने मंगलवार को सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए काम छोड़कर सड़क पर उतरकर धरना प्रदर्शन किया। अधिकारी कर्मचारी डीईओ कार्यालय के सामने धरना प्रदर्शन के बाद मोर्चा लेकर कलेक्टोरेट पहुंचे। यहां कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नाम ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में 14 सूत्रीय मांगें रखी गई है। अधिकारियों व कर्मचारियों ने मांगें पूरी नहीं होने पर 11 व 29 दिसंबर को इसी तरह के आंदोलन का ऐलान किया है।

छत्तीसगढ़ शासकीय कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन के बैनरतले कर्मचारी दोपहर 12 बजे डीईओ कार्यालय के सामने इक_ा हुए। यहां अधिकारियों व कर्मचारियों ने सभा की। सभा को आंदोलन से जुड़े अलग-अलग संगठनों के नेताओं ने संबंधित किया। सभा के बाद दोपहर एक बजे अधिकारी व कर्मचारी रैली से साथ कलेक्टोरेट पहुंचे। कलेक्टोरेट पहुंचकर अधिकारी कर्मचारी कलेक्टर को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा। इस दौरान मांगों को लेकर कथित उपेक्षा पर अधिकारियों व कर्मचारियों की सरकार पर जमकर नाराजगी भी फूटी। अधिकारियों व कर्मचारियों ने मांगों के समर्थन में नारेबाजी भी की।

दफ्तरों के कामकाज रहे प्रभावित
आंदोलन में प्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ, डिप्लोमा इंजीनियर एसोसिएशन, राजपत्रित अधिकारी संघ, वाहन चालक संघ, लघु वेतन चतुर्थ कर्मचारी संघ, कर्मचारी कांग्रेस, प्रदेश शिक्षक फेडरेशन, शिक्षक संघ, स्वास्थ्य एवं बहुद्देशीय कर्मचारी संघ, अजाक्स, राज्य कर्मचारी संघ, लिपिक वर्गीय कर्मचारी संघ, वन कर्मचारी संघ, पटवारी, राजस्व पटवारी संघ, राजस्व निरीक्षक संघ, अनियमित कर्मचारी संघ, पर्यवेक्षक संघ के कर्मचारी शामिल हुए। इससे अधिकतर दफ्तरों में कामकाज प्रभावित रहा।

अधिकारी-कर्मचारियों ने यह रखी मांग
0 लिपिक, शिक्षक व स्वास्थ्य संवर्ग के वेतन विसंगति का निराकरण।
0 कर्मचारियों व पेंशनरो को 9 फीसदी महंगाई भत्ता।
0 वेतन पुनरीक्षण नियम का बकाया एरियर्स का 4 किस्त भुगतान।
0 लंबित पदोन्नति, क्रमनोन्नति, समयमान व तृतीय समयमान वेतनमान का लाभ।
0 सहायक पशु चिकित्सा अधिकारी व सहायक शिक्षकों को तृतीय समयमान वेतनमान।
0 कोरोना संक्रमण में मृतकों के परिवार को 50 लाख अनुग्रह राशि व कोरोना ड्यूटी में भत्ता।
0 नियमितिकरण व सेवा से पृथक अनियमित कर्मचारियों की बहाली।
0 चार स्तरीय पदोन्नत वेतनमान स्वीकृति आदेश।
0 मूल वेतन के आधार पर 10 प्रतिशत गृह भाड़ा व अन्य भत्ता।
0 राज्य में पुरानी पेंशन योजना लागू।
0 अनुकंपा नियुक्ति के सभी प्रकरणों का निराकरण।
0 कार्यभारित, आकस्मिक सेवा कर्मचारियों का समायोजन, वेतन व भत्ते।
0 पटवारियों की पदोन्नति, लैपटाप व कम्प्यूटर की सुविधा।
0 पेंशन प्रकरणों का निराकरण।

coronavirus
Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned