जमीन की खरीदी बिक्री पर कोरोना का संक्रमण, पहली बार अप्रैल की जगह मई में लागू होगी रजिस्ट्री गाइडलाइन

जिले में इस बार जमीन की खरीदी बिक्री की रजिस्ट्री के लिए नई कलेक्टर गाइड लाइन अप्रैल की जगह मई में लागू होगा। इस बीच नए वित्तीय वर्ष में अप्रैल में भी पुरानी गाइड लाइन की दर पर रजिस्ट्री की जाएगी। (Durg News)

By: Dakshi Sahu

Published: 22 Mar 2020, 11:41 AM IST

दुर्ग. जिले में इस बार जमीन की खरीदी बिक्री की रजिस्ट्री (land registry in Durg) के लिए नई कलेक्टर गाइड लाइन अप्रैल की जगह मई में लागू होगा। इस बीच नए वित्तीय वर्ष में अप्रैल में भी पुरानी गाइड लाइन की दर पर रजिस्ट्री की जाएगी। कोरोना वायरस (Coronavirus in Chhattisgarh) के संक्रमण के खतरों को देखते हुए रजिस्ट्री कार्यालयों को भीड़ से बचाने पहली बार यह व्यवस्था की गई है।

हर साल भूमि व भवन की खरीदी-बिक्री पर लगने वाले रजिस्ट्री मुद्रांक शुल्क के लिए सरकारी गाइड लाइन ;कीमतद्ध तय किया जाता है। इसमें उपयोगिता व डिमांड के अनुसार ग्रामीणए शहरीए कृषि भूमिएभूखंडए मकान आदि के लिए अलग.अलग सरकारी कीमत तय की जाती है। इसी के आधार पर पूरे साल खरीदी बिक्री की रजिस्ट्री के लिए शुल्क वसूल किया जाता है। नए गाइड लाइन की दर हर वित्तीय वर्ष की शुरुआत के साथपहली अप्रैल से लागू हो जाती हैए लेकिन इस बार अप्रैल की जगह मई में नई दर लागू की जाएगी।

हर साल रिवाइज करने का है नियम
गाइड लाइन में हर वित्तीय वर्ष से पहले बाजार भावए डिमांड को ध्यान में रखकर जमीन की कीमत रिवाइज करने का प्रावधान है। इसके लिए सर्वे व संबंधित लोगों से सुझाव लेने का नियम है। सर्वे व सुझाव के बाद ग्रामीण व शहरीए कृषि भूमिए भूखंडए मकान आदि के अलग.अलग कीमत तय की जाती है। इसी के आधार पर हर साल गाइड लाइन की नई दरें तय की जाती है।

इसलिए देर से लागू करने का निर्णय
सामान्य तौर पर नए वित्तीय वर्ष में नए गाइड लाइन में रजिस्ट्री की दरों में वृद्धि कर दी जाती है। ऐसे में पुरानी सस्ती दर पर रजिस्ट्री के लिए अंतिम दिनों में रजिस्ट्री कार्यालयों में लोगों की भीड़ लग जाती है। हालात यह होता है कि देर शाम तक भी कार्यालय खोलकर रजिस्ट्री की स्थिति बनती है। मौजूदा स्थिति में ज्यादा भीड़ से कोरोना वायरस के संक्रमण जैसी स्थिति बन सकती है।

23 से 25 तक नहीं होगी रजिस्ट्री
23 से 25 मार्च तक सभी रजिस्ट्री कार्यालय बंद रखे जाएंगे। इस संबंध में राज्य शासन की ओर से सचिव वाणिज्य कर पंजीयन ने आदेश जारी किया है। आदेश के मुताबिक कोरोना वायरस के संक्रमण के लिहाज से अगला एक सप्ताह बेहद अहम होगा, ऐसे में किसी भी भीड़ से संक्रमण का खतरा बढ़ जाएगा। इसे देखते हुए 25 मार्च तक रजिस्ट्री कार्यालय बंद रखने का निर्णय किया गया।

coronavirus Coronavirus causes
Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned