scriptMLA Arun Vora responded to the allegations of the opposition | Durg Politics - विधायक अरुण वोरा का विपक्षियों को जवाब, बोले जनहित में काम हस्तक्षेप, तो यह लगातार करता रहूंगा | Patrika News

Durg Politics - विधायक अरुण वोरा का विपक्षियों को जवाब, बोले जनहित में काम हस्तक्षेप, तो यह लगातार करता रहूंगा

नगर निगम में विपक्षी महापौर धीरज बाकलीवाल से ज्यादा विधायक व स्टेट वेयर हाउसिंग कॉर्पोरेशन के अध्यक्ष अरुण वोरा के खिलाफ मुखर हैं। पत्रिका ने विधायक अरुण वोरा से इस विषय के साथ कई मुद्दों पर बातचीत की। इसमें वोरा के विपक्षियों के आरोपों पर तीखे तेवर सामने आए। उन्होंने नगर निगम में हस्तक्षेप के आरोप पर दो टूक लहजे में कहा कि जनहित से जुड़े काम हस्तक्षेप की श्रेणी में आता है तो वे लगातार यह कार्य करते रहेंगे। प्रस्तुत है उनसे बातचीत का संक्षिप्त अंश...।

दुर्ग

Published: April 30, 2022 04:34:40 pm

सवाल - विपक्षी नेता, आप पर नगर निगम के कार्यों में बेवजह हस्तक्षेप के आरोप लगाते रहे है, महापौर से ज्यादा आप उनके निशाने पर हैं?
जवाब - जनता ये भली भांति जानती है कि दुर्ग शहरी विधानसभा और नगर निगम क्षेत्र एक ही है। 60 वार्ड के नागरिकों की मूलभूत समस्याओं का निराकरण करना एवं छोटे बड़े-काम करवाना अगर हस्तक्षेप की श्रेणी में आता है तो यह हस्तक्षेप लगातार जारी रहेगा। शहर की जनता ही सर्वोपरि है। निशाने पर कोई नहीं होता, लोग जनप्रतिनिधियों से आशा रखते हैं व उम्मीद करते हैं।
Durg Politics - विधायक अरुण वोरा का विपक्षियों पर पलटवार, बोले जनहित में काम हस्तक्षेप, तो यह लगातार करता रहूंगा
विधायक व स्टेट वेयर हाउसिंग कॉर्पोरेशन के अध्यक्ष अरुण वोरा

सवाल - महापौर पर भी आपके इशारे पर काम करने का आरोप लगता रहा है, उनके अब तक के कार्यकाल को आप किस तरह देखते हैं?
जवाब - यदि इशारों में और खयालों में काम होते तो अब तक दुर्ग शहर के 60 वार्डों में एक भी समस्या नहीं बचती। विधायक महापौर, एमआईसी पार्षदगण सभी का एक सामूहिक प्रयास होता है ताकि शहर की जनता लाभान्वित हो सके। मुद्दाविहीन विपक्ष जिस तरह का भी आरोप लगा ले आम जनता से कुछ भी छिपा नहीं है। कांग्रेस शासन आने के बाद ही शहर की जनता ने विकास को इतने करीब से देखा है। 15 वर्षों तक उपेक्षित दुर्ग जिला अब मेट्रो सिटी की तर्ज पर विकसित हो रहा है। शहरी क्षेत्र के विकास के लिए अब तक 60 करोड़ से अधिक की राशि लाई गई है। महापौर अपनी जिम्मेदारियों का जनभावनाओं के अनुरूप निर्वहन कर रहे हैं।

सवाल - जीई रोड सहित कई अन्य सड़कों के काम की लेटलतीफी से जनता बेहद परेशान है, आपने कई बार आवाज उठाई लेकिन कोई असर दिख नहीं रहा?
जवाब - विकास कार्यों के खिलाफ आवाज उठाने की रीति भाजपा की रही है। एक विधायक के तौर पर मैंने जन आकांक्षाओं से शासन को अवगत कराया है। जब भी कोई निर्माण कार्य होता है थोड़ी परेशानी होती है जो सभी लोग समझते हैं। जल्द ही जीई रोड जनता को समर्पित किया जाएगा। नए वर्ष में दुर्ग शहर नए कलेवर में नजर आएगा।

सवाल- चुनाव की उल्टी गिनती शुरू हो गई है, शहर के कई नेताओं ने अपरोक्ष रूप से अलग खेमा तैयार कर लिया है, परिवारवाद के आरोप भी आप पर है, इनसे कैसे निपटेंगे।
जवाब - सभी का एक ही खेमा है कांग्रेस पार्टी। आजादी के इतिहास के साथ कांग्रेस का इतिहास जुड़ा है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी के नेतृत्व में सभी कांग्रेसी एकजुट हैं। जनता का भी भरोसा भूपेश सरकार पर है। चुनाव के नतीजे जनता ने उपचुनावों के माध्यम से जाहिर कर दिए हैं। जनहित की कल्याणकारी योजनाएं जिस तरह से कांग्रेस द्वारा लाई गई हैं एवं जमीनी स्तर पर क्रियान्वयन किया जा रहा है वह अभूतपूर्व है। शहर की जनता ही हमारा परिवार है। बाबूजी मोतीलाल वोरा ने दुर्ग को अपना परिवार समझा है और दशकों तक जनसेवा का पाठ पढ़ाया है। यह आत्मीय रिश्ता सदैव कायम रहे यही आशा करता हूँ।

सवाल- वेयर हाउसिंग के अब तक के कार्यकाल को किस रूप में देखते है, आपका कार्यकाल पूर्व से किस रूप में अलग है?
जवाब - राज्य भंडारगृह निगम के अधिकारी कर्मचारियों के सहयोग से हमने कई ऐसे कार्य किए हैं जो पूर्व में कभी नहीं हुए। ट्रस लेस गोदाम, फूड टेस्टिंग लैब, 1500 राशन दुकान सह-गोदाम जैसी कई नवाचारी योजनाओं की पहल की गई है। पूर्व के समय से पूरी तरह अलग एवं उपलब्धियों से भरा रहा है कार्यकाल। 2018 में कांग्रेस शासन आने के बाद यह नहीं भूलना चाहिए कि 2 वर्षों तक हमने वैश्विक महामारी कोरोना का भी सामना किया है। जिस दौरान सर्वाधिक आवश्यक अन्न की हमारे कर्मचारियों ने पूरे समर्पण भाव से हिफाजत की है और समय पर जरूरत के मुताबिक उपलब्धता सुनिश्चित की है। अपनी जान और परिवार की चिंता किए बिना छोटे से लेकर बड़े सभी अधिकारी कर्मचारी अपने कार्य में जुटे रहे इस दौरान कई लोग संक्रमित हुए कुछ लोगों को दु:खद निधन भी हुआ। किन्तु हमने अनुकंपा नियुक्ति के कार्यों को त्वरित रूप से निपटाया। पहली व दूसरी कोविड लहर के दौरान भंडारगृह के कर्मचारियों की कर्म परायणता सराहनीय रहा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: अपनी पत्नी पर खूब प्रेम लुटाते हैं इस नाम के लड़केबगैर रिजर्वेशन कर सकेंगे ट्रेन में यात्रा, भारतीय रेलवे ने जारी की सूचीनाम ज्योतिष: इन 3 नाम की लड़कियां जहां जाती हैं वहां खुशियों और धन-धान्य के लगा देती हैं ढेरजून का महीना किन 4 राशियों की चमकाएगा किस्मत और धन-धान्य के खोलेगा मार्ग, जानेंधन के देवता कुबेर की इन 4 राशियों पर हमेशा रहती है कृपा, अच्छा बैंक बैलेंस बनाने में रहते है कामयाबआपके यहां रहता है किराएदार तो हो जाएं सावधान, दर्ज हो सकती है एफआईआर24 हजार साल ठंडी कब्र में दफन रहा फिर भी निकला जिंदा, बाहर आते ही बना दिए अपने क्लोनअंक ज्योतिष अनुसार इन 3 तारीख में जन्मे लोगों के पास खूब होती है जमीन-जायदाद

बड़ी खबरें

नेपाल: चार भारतीय सहित 19 यात्रियों को ले जा रहा एयरक्रॉप्ट हुआ लापता, हादसे की आशंकाUniform Civil Code: मोदी सरकार का अगला एजेंडा है समान नागरिक संहिता, उत्तरखंड से शुरुआत, राज्यों में मंथनआज केरल में दस्तक दे सकता है मानसून, यूपी-बिहार सहित कई जगह बारिश का अलर्टभारत और बांग्लादेश के बीच 2 साल बाद फिर शुरू हुई ट्रेन, कोलकाता से हुई रवानाब्राजील में लैंडस्लाइड और बाढ़ से 31 की मौत, हजारों लोग हुए बेघरIPL 2022 के समापन समारोह में Ranveer Singh और AR Rahman बिखेरेंगे जलवा, जानिए क्या कुछ खास होगाArmy Recruitment Change: 'टूअर ऑफ ड्यूटी' के तहत 4 साल के लिए होंगी भर्तियां, फिर 25% युवाओं का पूर्ण चयनRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.