मोबाइल पर नाबालिग बेटी की वायरल अश्लील फोटो देखकर फट गया पिता का कलेजा, फिर हुआ ये सब....

असल दोस्तों की बजाय फेसबुक के दोस्त पर भरोसा करना एक नाबालिग छात्रा और उसके परिवार को भारी पड़ गया। दोस्ती की आड़ में युवक न सिर्फ छात्रा को ब्लैकमेल करने लगा बल्कि उसकी इज्जत भी लूट ली।

Dakshi Sahu

January, 1603:30 PM

भिलाई. असल दोस्तों की बजाय फेसबुक के दोस्त (Facebook friend) पर भरोसा करना एक नाबालिग छात्रा और उसके परिवार को भारी पड़ गया। दोस्ती की आड़ में युवक न सिर्फ छात्रा को ब्लैकमेल करने लगा बल्कि उसकी इज्जत भी लूट ली। ये मामला है भिलाई का। युवक पर भरोसा कर 12 वीं की छात्रा उसके साथ नेहरु नगर चली गई। आरोपी अपने दोस्त के मकान में ले जाकर उसके साथ हैवानियत पर उतर आया। छात्रा की अस्मत लूट ली। इतना ही नहीं अश्लील फोटो खींचकर परिजन को ब्लैकमेल करने लगा।

पुलिस ने किया आरोपी को गिरफ्तार
पीडि़ता ने इसकी रिपोर्ट पुलिस (Bhilai Police) में की। पुलिस ने आरोपी विश्वरंजन प्रधान को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। वहीं ब्लैकमेलिंग में उसका सहयोग करने वाले दोस्त विकास की तलाश पुलिस कर रही है। सुपेला टीआई गोपाल वैश्य ने बताया कि 9 जून 2019 की घटना है। पीडि़ता ने शिकायत में बताया कि दरिंदे से पहचान फेसबुक के माध्यम से हुई। सेक्टर-६ पावर जिम में पंजा कुश्ती स्पर्धा थी। दोनों देखने पहुंचे थे।

मोबाइल पर नाबालिग बेटी की वायरल अश्लील फोटो देखकर फट गया पिता का कलेजा, फिर हुआ ये सब....

स्पर्धा के दौरान ही उसकी पहली बार मुलाकात हुई। बी.कॉम. की पढ़ाई कर रहा दरिंदा विश्वरंजन बातचीत करने के बहाने उसे होटल ले जाना चाहता था। किशोरी ने उसे मना कर दिया। फिर उसे झांसा दिया कि नेहरू नगर में दोस्त का मकान है, वहीं चलते है। कहा कि नाश्ता भी करेंगे और बातें भी। झांसे में आकर किशोरी उसके साथ चली गई। कमरे में उसका कोई दोस्त नहीं था।

परिजनों को भेजी छात्रा की अश्लील फोटो
पुलिस ने बताया कि आरोपी विश्वरंजन ने दरिंदगी के बाद उसकी अश्लील फोटो बना लिया। किसी को भी घटना के बारे में बताने पर जान से मार देने की धमकी दी। किशोरी अपना दर्द दबाए रखी। पुलिस ने बताया कि किशोरी ने मोबाइल पर बातचीत करना बंद कर दिया। तब विश्वरंजन ने उसकी अश्लील फोटो को अपने दोस्त विकास के मोबाइल पर भेज दिया। फिर विकास ने उस अश्लील फोटो को पीडि़ता के परिजनों को भेज दिया। उनसे पैसे की मांग करते हुए ब्लैकमेल करने लगा। तब घटना की पूरी जानकारी पीडि़ता ने अपने परिजनों को दी। इसके बाद परिजनों के साथ थाने में शिकायत दर्ज कराई।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned