मेरी बेटी साहसी थी, उसने दुष्कर्म के आरोपी को पहुंचाया सलाखों के पीछे, जिगर के टुकड़े को खोने के बाद बेबस मां ने कहा

मेरी बेटी साहसी थी, उसने दुष्कर्म के आरोपी को पहुंचाया सलाखों के पीछे, जिगर के टुकड़े को खोने के बाद बेबस मां ने कहा

Dakshi Sahu | Publish: Mar, 14 2018 10:49:29 AM (IST) Durg, Chhattisgarh, India

. दुष्कर्म पीडि़त युवती के शव का मंगलवार को दो डॉक्टरों की टीम ने पोस्टमार्टम किया। उसके बाद पुलिस ने शव परिजन को सौंप दिया।

दुर्ग . दुष्कर्म पीडि़त युवती के शव का मंगलवार को दो डॉक्टरों की टीम ने पोस्टमार्टम किया। उसके बाद पुलिस ने शव परिजन को सौंप दिया। दुष्कर्म पीडि़त रानी (परिवर्तित नाम) ने आखिर यह आत्मघाती कदम क्यों उठाया, यह अभी तक स्पष्ट नहीं हुआ है।

क्या वह लोगों के तानों से परेशान थी या मामले से संबंधित कोई दबाव झेल रही थी या कोई और कारण था यह पुलिस की जांच के बाद पता चलेगा। मृतक युवती ने अपनी किसी तरह की परेशानी परिजन को नहीं बताई। सुसाइडल नोट भी नहीं मिला है। पुलिस ने मर्ग कायम किया है।

परिजन से बयान अभी नहीं लिए गए हैं। पुलिस युवती की सहेलियों से भी पूछताछ करेगी। उनसे यह पता लगाएगी कि उसने किसी सहेली के कभी किसी तरह की पेरशानी शेयर तो नहीं की थीं। बेटी के शव का पोस्टमार्टम कराने मॉरच्यूरी पहुंचे पिता भी पुलिस को कोई खास जानकारी नहीं दे सके।

शुरू में डिपे्रशन में थी फिर काम करने लगी
पेशे से इलेक्ट्रिशियन पिता ने कहा कि शुरुआत में बेटी डिप्रेशन में थी। जिस लड़के ने उसे धोखा दिया था उसके खिलाफ खुद आवाज उठाई और अपराध दर्ज कराया था। वह कम बात करती थी। मैं जब काम पर था तभी घर के सामने भीड़ की सूचना मिली तो वापस आया। भीतर जाने पर घटना की जानकारी हुई।

पुलिस ने युवती का मोबाइल जब्त किया
मोहन नगर पुलिस ने घटना स्थल का दो बारा निरीक्षण किया। जांच के दौरान सुसाइडल नोट नहीं मिला। पुलिस नेरानी का एनराइड फोन जब्त कर लिया है। पुलिस का कहना है कि एनराइड लॉक है। उसे अनलॉक कराकर जांच की जाएगी। मोबाइल पर घटना के समय से किसी से कोई बात तो नहीं हुई यह पता चलेगा।

वाट्सएप को भी चैक किया जाएगा कि कहीं कोई कमेंट् तो नही आया था। पुलिस फेसबुक प्रोफाइल को भी चैक करेगी। एएसआई मोहन नगर बेबी नंदा ने बताया कि शव का पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौप दिया गया। घटना के दूसरे दिन भी युवती ने आत्महत्या क्योंकि इसका खुलासा नहीं हो पाया है। हमने मोबाइल को जब्त कर लिया है। जांच जारी है।

बिसरा जांच के लिए भेजा गया फोरेंसिक लैब
शव का पोस्टमार्टम डॉ. विपिन जैन व महिला रोग विशेषज्ञ डॉ. अर्चना चौहान ने किया। पीएम करीब दो घंटे चला। चिकित्सकों ने पुलिस को बताया कि रानी की मृत्यु फांसी के फंदे पर लटकने के बाद हुई है। हालांकि चिकित्सकों ने बिसरा जांच के लिए फोरेंसिक लैब भेजा है। मंगलवार दोपहर २ बजे पुलिस ने पोस्टमार्टम कराने के बाद शव परिजनों को सौप दिया।

दुकान संचालक से पुलिस लेगी बयान
रानी सेल्स गर्ल थी। वह शहर की एक सराफा दुकान में काम करती थी। घटना के समय वह दुकान जाने के लिए तैयार हुई थी। इसी बीच उसने आत्महत्या की। पुलिस का कहना है कि इस मामले में बुधवार को पुलिस दुकान के संचालक व वहां के अन्य कर्मचारियों का बयान लेगी। परिवार के सदस्यों का बयान दो दिन बाद लिया जाएगा।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned